कोचिन इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने जलक्षेत्र स्थित सौर ऊर्जा संयंत्र चालू किये

कोच्चि, 17 जनवरी (भाषा) कोचिन इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (सीआईएएल) ने केरल में जलक्षेत्र में दो सौर ऊर्जा संयंत्र चालू किये हैं। कंपनी ने रविवार को इसकी जानकारी दी।

कोचिन इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने दुनिया का सबसे पहला सौर ऊर्जा युक्त हवाईअड्डा बनने का रिकॉर्ड 2015 में अपने नाम किया था।

सीआईएएल ने कहा कि ये दोनों सौर ऊर्जा संयंत्र दो कृत्रिम झील में बनाये गये हैं। इनमें से प्रत्येक की क्षमता 452 किलोवॉट प्रति घंटा है। इससे सीआईएएल की कुल स्थापित क्षमता बढ़कर अधिकतम 40 मेगावाट हो गयी। इससे हवाईअड्डे को अब उसकी 1.30 लाख यूनिट की खपत की तुलना में प्रति दिन करीब 1.60 लाख यूनिट का उत्पादन कर सकती है।

सीआईएएल के एक बयान में कहा गया कि दोनों संयंत्र एक एकड़ क्षेत्र में हैं और केरल राज्य विद्युत बोर्ड (केएसईबी) के पावरग्रिड से जुड़े हुए हैं।

कंपनी के संस्थापक प्रबंध निदेशक वीजे कुरियन ने इस सफलता का श्रेय नयी प्रौद्योगिकी लाने तथा अपनी कार्यप्रणाली को वैश्विक स्तर के अनुकूल बनाने की दिशा में कंपनी के सतत प्रयासों को दिया।

भाषा

सुमन महाबीर

महाबीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password