CM Shivraj Corona Meeting : प्रदेश के इन ​जिलों में भी अब रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे बाजार, होली पर विशेष सावधानी बरतनें के निर्देश

CM Shivraj corona meeting

भोपाल। महाराष्ट्र से यात्री बसों का परिवहन CM Shivraj corona meeting  बंद करने और शहरों में रात दस बजे से बाजार बंद करने के फैसले के अलावा सरकार ने और भी कई फैसले लिए है। सरकार ने टीकाकरण के टारगेट को 5 लाख डोज प्रतिदिन किए जाने की बात की साथ ही अब एकबार फिर अस्पतालों में इलाज की व्यवस्थाओं को नए सिरे से रिव्यू किया जा रहा है। गुरुवार शाम सीएम शिवराज ने जिलों के कलेक्टर कमिश्नर और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की बैठक में सीएम ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि कठिन परिस्थितियों के लिए अमला तैयार रहे। ये गुड गर्वनेंस की परीक्षा है।

रोजगार की व्यवस्था के निर्देश दिए गए
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए शुरू किए गए अभियान में जनप्रतिनिधि, समाज सेवी और धर्मगुरूओं का सहयोग लिया जाए। होली के लिए विशेष सावधानी बरतने के भी निर्देश दिए। साथ ही श्रमिकों के लिए गांवों में ही रोजगार की व्यवस्था के निर्देश दिए गए है।

सरकार कड़ाई करेगी
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण पुन: तेजी से फैल रहा है। इसके नियंत्रण के‍लिए आर्थिक गतिविधियों पर रोक नहीं लगाई जा सकती। व्यापार और रोजगार में कोरोना से बचाव की सावधानियों का कड़ाई से पालन करें, नहीं तो सरकार कड़ाई करेगी। यह प्रदेश में गुड गवर्नेंस की पुन: परीक्षा है। बिना पेनिक करें हमें कोरोना को परास्त करना है।

रात्रि 10 बजे से प्रात: 6 बजे तक बाजार बंद रहेंगे
मुख्यमंत्री ने ग्वालियर, जबलपुर सहित प्रदेश के सर्वाधिक प्रभावित जिलों उज्जैन, सागर, बैतूल, बुरहानपुर, खरगोन, रतलाम और‍ छिंदवाड़ा में भी रात्रि 10 बजे से प्रात: 6 बजे तक व्यावसायिक प्रतिष्ठान और बाजार बंद रखने के निर्देश दिए।

महाराष्ट्र से आने-जाने वाली यात्री बसों पर रोक

महाराष्ट्र में बनी कोरोना की विस्फोटक स्थिति को देखते हुए महाराष्ट्र से आने-जाने वाली यात्री बसों के आवागमन पर 20 मार्च से रोक लगाने के निर्देश भी दिए गए।

कोरोना नियंत्रण के लिये हरसंभव प्रयास करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण पुन: फैलना आरंभ हुआ है। इस पर नियंत्रण के लिए हरसंभव प्रयास अभी से आरंभ करना आवश्यक है। इसके साथ ही प्रदेश को कठिनतम परिस्थितियों से निपटने के लिए भी तैयार भी रहना होगा। बैठक में जानकारी दी गई कि पिछले सात दिनों में इंदौर में 1778, भोपाल में 1170, जबलपुर में 358, ग्वालियर में 185, उज्जैन में 187, रतलाम में 162, छिंदवाड़ा में 147, बुरहानपुर में 130, बैतूल में 110 और खरगोन में 92 कोरोना पॉजिटिव प्रकरण दर्ज किए गए हैं। ग्वालियर मेले की अवधि के संबंध में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप निर्णय लें।

इलाज की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की जाए
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से प्रभावित व्यक्तियों के इलाज की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। होम आइसोलेशन में टेली कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा उनको पर्याप्त इलाज, सुझाव देने और सतर्क निगरानी की व्यवस्था हो। इसके साथ ही छोटे घरों में जहां आइसोलेशन संभव नहीं हैं, वहां शासकीय अस्पतालों में पृथक वार्ड बनाकर आइसोलेशन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। निजी अस्पतालों की क्षमताओं का उपयोग करते हुए उन्हें एप पर जोड़कर वहां आ रहे मरीजों की जानकारी और उनकी स्थिति से भी जिला प्रशासन लगातार अवगत रहे। निजी अस्पतालों के लिए जारी गाइडलाइन का सख्ती से पालन किया जाए तथा यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी निजी अस्पताल मरीजों से मनमानी वसूली न करें।

कलेक्टर जबलपुर का हाल जाना मुख्यमंत्री ने
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल, खरगोन, खण्डवा और सागर के कलेक्टर्स से बात कर कोरोना संक्रमण की स्थिति और उसके नियंत्रण के लिए किए जा रहे उपायों की जानकारी ली। जबलपुर कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा स्वयं कोरोना पॉजिटिव हैं, फिर भी वे कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सम्मिलित हुए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेते हुए उन्हें पर्याप्त सावधानी बरतने का सुझाव दिया।

माझा परिवार – माझा होली

मुख्यमंत्री चौहान ने जन-जागरण के लिए किए जा रहे बुरहानपुर के नवाचार की सराहना करते हुए कहा कि अन्य जिलों के कलेक्टर भी इसका अनुसरण करें अथवा स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार नवाचार करें। कलेक्टर बुरहानपुर ने जानकारी दी कि होली पर कोरोना के कारण सावधानी बरतने के लिए लोगों को प्रेरित करने के उद्देश्य से ‘माझा परिवार-माझा होली’ के स्लोगन का प्रचार-प्रसार कर लोगों को परिवार में होली मनाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। कलेक्टर खरगोन ने आदिवासी समाज की सहमति और उन्हें विश्वास में लेते हुए भगोरिया तथा अन्य मेला गतिविधियों को सीमित करने, खण्डवा कलेक्टर ने जन-जागरण में सामाजिक संगठनों, एनसीसी, एनएसएस और जन अभियान परिषद का सहयोग लेने की बात कही। सागर कलेक्टर ने बताया कि जिले में रोको-टोको अभियान के अंतर्गत कार्यवाहियां जारी हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password