ग्रामीण एवं दूरस्थ क्षेत्रों के लोगों के लिए वरदान सीएम हाट बाजार क्लिनिक योजना

रायपुर: शासन की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना जिले के ग्रामीण एवं दूरस्थ क्षेत्रों के लोगों के लिए वरदान बना है। जिले के सभी विकासखण्डों के कुल 50 हाट बाजारों में मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना का संचालन किया जा रहा है। जिसमें बालोद, डौण्डी, डौण्डीलोहारा, गुण्डरदेही और गुरूर विकासखड के 10-10 हाट बाजार शामिल हैं। मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के अंतर्गत जो ग्रामीण दूर स्वास्थ्य संस्था तक या शहर के अस्पतालों तक नहीं पहुंच पाते थे। उन्हें स्वास्थ्य टीम द्वारा हाट बाजारों में शिविर के माध्यम से बीमारियों की पहचान कर परामर्श दिया जाता है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के तहत् बुखार, मलेरिया की जॉच एवं उपचार, एचआईव्ही की जॉच, टी.बी.की जॉच, रक्तचाप जॉच, रक्तअल्पता की जॉच, मधुमेह की जॉच, गर्भवती महिलाओं की जॉच एवं परामर्श, शिशुओं का टीकाकरण, नेत्र विकार संबंधी जॉच, डायरिया प्रकरण जैसी बीमारियों का जॉच की जाती है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना अंतर्गत जिले में अप्रैल 2020 से नवम्बर 2020 तक बुखार पीड़ित 38 मरीजों का मलेरिया जॉच किया गया। 49 मरीजों का रक्त अल्पता जॉच किया गया। 177 मरीजों का रक्तचाप जॉच किया गया। महिला स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा 16 गर्भवती महिलाओं का सफल ए.एन.सी. जॉच कर संस्थागत प्रसव हेतु परामर्श दिया गया। 50 वर्ष से अधिक उम्र के 24 लोगों का मोतियाबिंद पहचान किया गया। डायरिया से ग्रसित 10 मरीजों का पहचान कर दवाईयॉ उपलब्ध कराया गया। 631 लोगों के सामान्य बीमारियों की जॉच व पहचान कर दवाईयॉ उपलब्ध कराया गया। मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के तहत् स्वास्थ्य टीमों द्वारा ग्रामीण व पिछड़ी जगहों के हाट बाजारों में पहुंचकर 1002 लोगों को योजना से लाभान्वित किया गया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password