मुख्यमंत्री ने की पशुचिकित्सक की कर्तव्य निष्ठा की प्रशंसा, कहा मध्यप्रदेश को ऐसे अधिकारी, कर्मचारी गढ़ते हैं -

मुख्यमंत्री ने की पशुचिकित्सक की कर्तव्य निष्ठा की प्रशंसा, कहा मध्यप्रदेश को ऐसे अधिकारी, कर्मचारी गढ़ते हैं

निवाड़ी (मप्र), 11 जनवरी (भाषा) बर्ड फ्लू की जांच के लिये कौओं के नमूने लेकर अपने बेटे के साथ मोटर साइकिल पर 350 किलोमीटर का सफर कर मध्यप्रदेश में निवाड़ी से भोपाल तक आने वाले पशु चिकित्सक की कर्तव्य निष्ठा की प्रशंसा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को ऐसे अधिकारी और कर्मचारी ही गढ़ते हैं।

प्रदेश के निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर क्षेत्र के सहायक पशु चिकित्साधिकारी आरपी तिवारी ने बताया कि उन्हें शनिवार शाम को नमूने लेकर भोपाल ले जाने के लिए कहा गया, लेकिन पृथ्वीपुर से 60 किलोमीटर दूर टीकमगढ़ पहुंचने उनकी भोपाल की बस छूट गयी। इसके बाद रात में झांसी से भोपाल के लिये ट्रेन की सीट का आरक्षण पाने में भी वह असफल रहे।

सोमवार को 54 वर्षीय तिवारी ने पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘बस छूटने के बाद मैंने अपने बेटे के साथ मोटर साइकिल से भोपाल जाने का फैसला किया। रात में रास्ते में बहुत ठंड लगी लेकिन हम रविवार को भोपाल पहुंचने और बर्ड फ्लू के परीक्षण के लिये मृत कौओं को जांच केन्द्र में पहुंचाने में सफल रहे।’’

तिवारी के इस कार्य की प्रशंसा करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘आरपी तिवारी के जज्बे को प्रणाम करता हूं। आपने कर्तव्य निष्ठा और दृढ़ इच्छाशक्ति का अद्भुत उदाहरण समाज के सामने रखा है। मध्यप्रदेश को आप जैसे अधिकारी और कर्मचारी ही गढ़ते हैं। मेरी ओर से आपको हार्दिक शुभकामनाएं।’’

भाषा सं दिमो अर्पणा

अर्पणा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

मुख्यमंत्री ने की पशुचिकित्सक की कर्तव्य निष्ठा की प्रशंसा, कहा मध्यप्रदेश को ऐसे अधिकारी, कर्मचारी गढ़ते हैं

निवाड़ी (मप्र), 11 जनवरी (भाषा) बर्ड फ्लू की जांच के लिये कौओं के नमूने लेकर अपने बेटे के साथ मोटर साइकिल पर 350 किलोमीटर का सफर कर मध्यप्रदेश में निवाड़ी से भोपाल तक आने वाले पशु चिकित्सक की कर्तव्य निष्ठा की प्रशंसा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को ऐसे अधिकारी और कर्मचारी ही गढ़ते हैं।

प्रदेश के निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर क्षेत्र के सहायक पशु चिकित्साधिकारी आरपी तिवारी ने बताया कि उन्हें शनिवार शाम को नमूने लेकर भोपाल ले जाने के लिए कहा गया, लेकिन पृथ्वीपुर से 60 किलोमीटर दूर टीकमगढ़ पहुंचने उनकी भोपाल की बस छूट गयी। इसके बाद रात में झांसी से भोपाल के लिये ट्रेन की सीट का आरक्षण पाने में भी वह असफल रहे।

सोमवार को 54 वर्षीय तिवारी ने पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘बस छूटने के बाद मैंने अपने बेटे के साथ मोटर साइकिल से भोपाल जाने का फैसला किया। रात में रास्ते में बहुत ठंड लगी लेकिन हम रविवार को भोपाल पहुंचने और बर्ड फ्लू के परीक्षण के लिये मृत कौओं को जांच केन्द्र में पहुंचाने में सफल रहे।’’

तिवारी के इस कार्य की प्रशंसा करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘आरपी तिवारी के जज्बे को प्रणाम करता हूं। आपने कर्तव्य निष्ठा और दृढ़ इच्छाशक्ति का अद्भुत उदाहरण समाज के सामने रखा है। मध्यप्रदेश को आप जैसे अधिकारी और कर्मचारी ही गढ़ते हैं। मेरी ओर से आपको हार्दिक शुभकामनाएं।’’

भाषा सं दिमो अर्पणा

अर्पणा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password