Chhattisgarh News: स्वतंत्रता दिवस पर सीएम की घोषणा, बनाए जाएंगे 4 नए जिले और 18 तहसील

रायपुर। आज 15 अगस्त के दिन पूरे देश में आजादी के जश्न की धूम रही। लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाषण दिया। वहीं सभी प्रदेशों में सीएम और राज्यपाल ने स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाया। छत्तीसगढ़ में भी स्वतंत्रता दिवस धूम-धाम से मनाया गया। सीएम भूपेश बघेल ने राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड में तिरंगा फहराया। बघेल ने प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी। साथ ही चार नए जिले बनाने की घोषणा भी कर दी। सीएम बघेल ने अपने ऐलान किया है कि मोहला मानपुर, सारंगढ़ बिलाईगढ़, सक्ती, मनेन्द्रगढ़ को नया जिला बनाया जाएगा। अब ये चार नए जिले अस्तित्व में आ जाएंगे। जिलों के साथ ही 18 नई तहसील बनाने की भी घोषणा की है।

अब छत्तीसगढ़ में कुल 32 जिले और 18 नई तहसील होंगी। सीएम ने आज अपने भाषणों में कहा कि नांदघाट, सोहेला,सीपत,बोदरी, बिहारपुर,चांदो,रधुनाथ नगर, डौरा- कोचली ,कोटमी- सकोला, सरिया, छाल, अजगरबहार, बरपाली, अहिवारा सरोना, कोरर, बारसुर, मर्दापाल, धनोरा, अड़भार, गंगलूर, कुटरू, लालबहादुर नगर, तोंगपाल को नई तहसील बनाने की घोषणा की जा रही है। अब ये नई तहसीलें अस्तित्व में आ जाएंगी। बता दें कि इससे पहले सीएम ने अपने भाषणों में किसानों की भी बात की है। पिछले 2 सालों में किसानों को सरकार ने काफी फायदा दिया है। 263 नए धान खरीदी केंद्र खोले गए और 20 लाख 53 हजार किसानों को 92 लाख मैट्रिक टन धान समर्थन मूल्य पर सरकार ने खरीदी है। इसके साथ ही बघेल ने कहा कि राजस्व संबंधी काम काज की जटिलता को देखते हुए नामांतरण की प्रक्रिया का सरलीकरण किया जाएगा। इससे किसानों को काफी आसानी होगी।

धूमधाम से मनाया आजादी दिवस…
आज पूरे देश में रविवार सुबह से ही आजादी के जश्न की धूम रही। पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दीं। इसके साथ ही सभी राज्यों में सीएम और राज्यपाल ने आजादी के जश्न का आगाज तिरंगा फहराने के बाद लाल किले की प्राचीर से स्वतंत्रता दिवस पर अपने सम्बोधन में प्रधानमंत्री ने देशवासियों का आह्वान करते हुए कहा, यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है। असंख्य भुजाओं की शक्ति है, हर तरफ़ देश की भक्ति है, तुम उठो तिरंगा लहरा दो, भारत के भाग्य को फहरा दो। नागरिकों से समय के साथ ख़ुद को बदलने का आग्रह करते हुए प्रधानमंत्री ने यह भरोसा भी जताया कि 21वीं सदी में भारत के सपनों को पूरा होने से कोई बाधा नहीं रोक सकती। उन्होंने कहा कि ‘‘सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास और सबके प्रयास’’ से इस लक्ष्य को हासिल करना है।

प्रधानमंत्री ने लगभग डेढ़ घंटे के अपने संबोधन के दौरान पड़ोसी मुल्कों चीन और पाकिस्तान पर भी निशाना साधा और विस्तारवाद और आतंकवाद की उनकी नीतियों के लिए उन्हें आड़े हाथों लिया।देश के विकास में आधुनिक बुनियादी ढांचा पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि जल्द ही प्रधानमंत्री गतिशक्ति योजना शुरू की जाएगी और इसके तहत 100 लाख करोड़ रुपये से अधिक की योजनायें रोजगार के अवसर पैदा करेंगी।प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय योजना औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और यातायात की व्यवस्था को दुरूस्त करने वाली होगी। उन्होंने यह भी कहा कि आजादी के 100 साल पूरे होने से पहले भारत को ऊर्जा के मामले में आत्मिनर्भर बनायेंगे। उन्होंने कहा, भारत को आधुनिक बुनियादी ढांचे के साथ ढांचागत क्षेत्र के लिये एक समग्र रुख की जरूरत है। इस दिशा में जल्दी ही गतिशक्ति- राष्ट्रीय मास्टर प्लान योजना शुरू की जाएगी। विकास को नई गति देने का संकेत देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि अब हमें पूर्णता की तरफ जाना है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password