CG TRAIN BAN NEWS: CM भूपेश ने की केंद्रीय रेल मंत्री से बात, कैसिंल ट्रेनों के जल्द शुरू करने की मांग की

CG TRAIN BAN NEWS

RAIPUR: CM भूपेश बघेल ने फोन पर केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से चर्चा की। उन्होंने छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली करीब 23 यात्री रेलगाड़ी को निरस्त करने का मामला उठाया। कहा कि ट्रेनों के रद्द किए जाने से राज्य के यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।CM ने रेल मंत्री से ट्रेनों के परिचालन को प्रारंभ करने का आग्रह किया। इस पर रेल मंत्री ने  जल्द निराकरण करने का आश्वासन दिया। बता दें कि दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने एक महीने के लिए प्रदेश से गुजरने वाली 23 ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है।

क्या था मामला

रेलवे ने छत्तीसगढ़  से गुजरने वाली 23 एक्सप्रेस और लोकल ट्रेनों का परिचालन एक महीने के लिए रोक दिया है। 24 अप्रैल से ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया है। इसे लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कड़ी आपत्ति जताई है। भूपेश बघेल के निर्देश पर मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली लोकल रेलों का परिचालन पहले की तरह जारी रखने का आग्रह किया है।CG Railways stopped 23 trains

दरअसल, प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक, दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे बिलासपुर ने 23 अप्रैल 2022 को आदेश जारी किया था। छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली कुल 23 एक्सप्रेस और लोकल ट्रेनों का परिचालन 24 अप्रैल 2022 से आगामी एक माह के लिए बंद कर दिया गया है। यह सभी ट्रेन छत्तीसगढ़ राज्य के अंतर्गत रेल मार्गों से प्रतिदिन आना-जाना करती हैं। इन ट्रेनों के परिचालन बंद करने के पूर्व यात्रियों के लिए किसी प्रकार की वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई है।

मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू ने इस संबंध में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष को पत्र में लिखा है कि इसके पूर्व भी प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक, दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे बिलासपुर ने 31 मार्च 2022 के आदेश में कुल 10 रेलों का परिचालन बंद कर दिया था। इन 10 रेलों में से आठ रेलें छत्तीसगढ़ राज्य के रेल मार्गों पर आवागमन करती थी। उपरोक्त रेलों का परिचालन यथावत रखने हेतु राज्य शासन ने 5 अप्रैल 2022 को पत्र लिखकर अनुरोध किया था। इसके बावजूद राज्य शासन के अनुरोध को अनदेखा किया गया।CG Railways stopped 23 trains

अपर मुख्य सचिव ने पत्र में लिखा है कि प्रदेश में मध्यम एवं निम्न वर्ग के अनेक यात्री है, जो प्रतिदिन उपरोक्त रेलों से यात्रा करते हुए अपने गंतव्य स्थल तक पहुंचते हैं। रेलों के बंद होने से प्रतिदिन यात्रा करने वाले छोटे-छोटे व्यवसायी, रोजगार, शासकीय और अर्द्धशासकीय सेवा से जुड़े व्यक्तियों को काफी असुविधा होती है। ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिए जाने से निश्चित रूप से ग्रीष्मावकाश में की जाने वाली यात्राओं पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password