CG News: कांग्रेस सरकार में बिना काम के एक हजार करोड़ का भुगतान

CG News: कांग्रेस सरकार में बिना काम के एक हजार करोड़ का भुगतान, अकबर के भाई के 240 करोड़ रुपए के टेंडर निरस्‍त होंगे

Share This

रायपुर। CG News: छत्‍तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार में हुए घोटालों की परत हब हटना शुरू हो गई हैं। विष्‍णुदेव साय की सरकार आने के बाद यह पहला मौका है जब किसी फर्म  के टेंडर निरस्‍त किए जा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि पिछली यानी कांग्रेस की सरकार में कई काम हुए बिना ही करीब एक हजार करोड़ रुपए का भुगतान कर दिया है। इसकी जांच सरकार ने शुरू कर दी है।

साथ में पूर्व मंत्री मो. अकबर के भाई मो. असगर की फर्म (CG News) रायपुर कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड पर शिकंजा कसा है और 240 करोड़ का टेंडर निरस्त कराने की प्रक्रिया के बाद

अब कांग्रेस सरकार में फर्म को मिले कामों की गोपनीय जांच करवा रही है।

वित्‍त मंत्री को मिली थी शिकायत

बताया जा रहा है कि वित्‍त मंत्री ओपी चौधरी को एक शिकायत प्राप्‍त हुई थी।  इस शिकायत में बताया गया था कि बिना काम ही करीब एक हजार करोड़ रुपए  का भुगतान नियमों की अनदेखी करके किया गया है।

शिकायत में बताया गया कि मो. असगर की फर्म को नया (CG News) रायपुर और रायपुर में 1000 करोड़ के काम नियमों के खिलाफ दिए गए।

इनमें कई काम तय समय पर नहीं हुए, फिर भी किस्तों में बिल पास हुए। इस शिकायत के बाद यह कार्रवाई की गई है।

संबंधित खबर: Ram Mandir Pran-Pratistha: रायपुर में दिवाली जैसी धूम, रामभक्‍तों ने जलाए 11 लाख दीए, कौशल्या मंदिर में लेजर शो का आयोजन

साइकिल ट्रैैक पर 10 प्रतिशत काम

20 प्रतिशत ही हुआ काम

बता दें कि नया (CG News) रायपुर में 10 प्रोजेक्‍ट पर काम चल रहा है। जिनकी लागत करीब 240 करोड़ रुपए हैं। इसमें 9 प्रोजेक्‍ट पर रायपुर कंस्ट्रक्शन कंपनी काम कर रही थी, जिसके कुछ प्रोजेक्ट जून तक पूरे होने थे, लेकिन उनमें 20 प्रतिशत ही काम हुआ।

बता दें कि एक प्रोजेक्ट कल्याण कंस्ट्रक्शन के पास था। (CG News) रायपुर कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनी को काम पूरा नहीं करने पर NRDA ने आधा दर्जन से ज्यादा नोटिस कंपनी को दिए थे, लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया।

अफसरों का कहना है कि इसी के चलते कार्रवाई की गई।

संबंधित खबर:Raipur VIP Road: रायपुर में वीआईपी रोड पर लगा श्री राम मंदिर मार्ग का बोर्ड, नाम को लेकर सियासत शुरू

ये प्रोजेक्ट मिले थे

(CG News) रायपुर कंस्ट्रक्शन कंपनी को नया रायपुर में 36 किमी का साइकिल ट्रैक बनाना था। जिसकी लागत 45 करोड़ थी, इसके अलावा सड़क, पार्किंग, क्लब हाउस, मंत्रालय का सौंदर्यीकरण, तालाब का निर्माण समेत कुछ और कामों को भी पूरा करना था, लेकिन ये सभी काम अधूरे हैं।

बता दें कि वर्तमान में साइकिल ट्रैक 10 प्रतिशत, क्लब हाउस 5 और पार्किंग निर्माण सिर्फ 20 प्रतिशत ही हुआ है। मंत्रालय का सौंदर्यीकरण और तालाब निर्माण अब तक शुरू ही नहीं हुए, जबकि जून 2024 तक इस प्रोजेक्ट को पूरा होना था। निर्माण की गति को देखते हुए एक्शन लिया गया।

कर दिया 120 करोड़ का भुगतान

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार (CG News) रायपुर कंस्ट्रक्शन कंपनी को अब तक 120 करोड़ रुपए का भुगतान हो चुका है।

इसके अलावा कई और बिल कंस्ट्रक्शन कंपनी ने विभाग में लगाए हैं। सरकार ने काम रोकने के साथ ही बिल भुगतान ना करने का निर्देश भी दिया है।

स्मार्ट सिटी का 850 करोड़ की लागत से 54 प्रोजेक्ट (CG News) छत्तीसगढ़ में चल रहे हैं। इसमें 360 करोड़ रुपए तो खर्च कर दिए गए, लेकिन अब तक सिर्फ 9 ही पूरे हो पाए हैं।

केंद्र सरकार की ओर से जारी निर्देश की माने तो इन सभी प्रोजेक्ट को जून 2024 तक पूरा करना है।

संबंधित खबर:CG Swachta Didi News: रायपुर से दिल्ली में परेड देखने के लिए स्वछता दीदियां रवाना, अरुण साव ने दिखाई हरी झंडी

पूर्व मंत्री के भाई की कंपनी

वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने जानकारी दी थी कि जिस कंपनी का टेंडर रद्द किया जा रहा है, वो कंपनी पूर्व मंत्री के भाई की है। कांग्रेस सरकार में (CG News) रायपुर कंस्ट्रक्शन कंपनी को लगातार एक्सटेंशन दिया जा रहा था।

फर्म के खिलाफ गुणवत्ता-हीन काम की शिकायत मिली थी। इसके बाद एक्‍शन लिया गया है। उन्होंने कहा कि, पूर्व मंत्री के भाई की कंपनी है, इसलिए एक्शन लिया गया ऐसा नहीं है।

जो भी ठेकेदार शासकीय कामों में लापरवाही बरतेगा और लेट-तीफी करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password