CG News: कांग्रेस विधायक ने टीएस सिंहदेव पर लगाए गंभीर आरोप, बोले- सीएम बनने की चाह में उठाया कदम

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के एक विधायक ने रविवार को आरोप लगाया कि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव के इशारे पर सुरगुजा जिला में उनके काफिले पर हमला कराया गया।विधायक बृहस्पत सिंह ने दावा किया कि शनिवार शाम को अंबिकापुर शहर में उनके काफिले पर हुए हमले के पीछे कारण यह है कि उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रशंसा की थी जिन्हें सिंह देव पसंद नहीं करते हैं। सुरगुजा विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले मंत्री ने हालांकि कहा कि राज्य और उनके क्षेत्र की जनता उनकी छवि से परिचित है। इसके अलावा इस मुद्दे पर कहने के लिए उनके पास कुछ नहीं है। रामानुजगंज सीट से सत्तारूढ़ पार्टी के विधायक ने आरोप लगाया कि तीन लोगों ने उन पर हमला किया। इनमें से एक ने बताया कि वह मंत्री का दूर का रिश्तेदार है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि वाहन चालक की शिकायत के आधार पर तीन आरोपियों सचिन सिंह देव, धन्नो उराव और संदीप रजक को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि घटना के सही कारणों का तत्काल पता नहीं चल पाया है और आगे की जांच की जा रही है।

हमले को बताया राजनीतिक साजिश
कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने इस हमले को राजनीतिक साजिश बताया है। विधायक ने कहा कि सरगुजा राजपरिवार (Sarguja Rajpriwar) और स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) के परिजनों ने उनपर हमला कराया है। यह सब एक राजनीतिक साजिश के तहत हुआ है। बृहस्पति सिंह ने कहा कि हाल ही में उन्होंने सीएम भूपेश बघेल की तारीफ कर दी थी। इसी को लेकर बदले की भावना से उनके काफिले पर हमला किया गया है। हमले के बाद विधायक ने इसकी शिकायत पुलिस से भी की है। कोतवाली थाना पुलिस ने विधायक की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है। हमले की जानकारी मिलते ही सरगुजा रेंज आईजी रतन लाल डांगी, सरगुजा एसपी अमित तुकाराम कांबले भी चौकी पहुंचे। पुलिस ने बताया कि विधायक की शिकायत के आधार पर कोतवाली थाने में विधायक और समर्थकों का बड़ा जत्था जमा हो गया था। विधायक की शिकायत के आधार पर पुलिस ने धारा 341, 186, 294, 506, 353 और एट्रोसिटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password