अस्पताल में नवजात की एड़ी कुतरने का मामला, स्टाफ नर्स निलंबित, एचएलएल कंपनी पर एक लाख का जुर्माना

इंदौर: प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल एमवायएच में मंगलवार को नवजात बच्चे की एड़ी चूहे द्वारा कुतरने का मामला सामने आया था। जिसके बाद जांच कमेटी ने परिजनों के बयान और जांच के बाद स्टाफ नर्स की लापरवाही मानी और साथ ही एचएलएल कंपनी को भी दोषी पाया है।

जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने स्टाफ नर्स को निलंबित और एसएलएल कंपनी के दो कर्मचारियों को बर्खास्त कर कंपनी पर एक लाख का जुर्माना लगाया है। बता दें कि एचएलएल कंपनी अस्पताल में सफाई और सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालती है।

नर्सरी में भर्ती है बच्चा

जानकारी के मुताबिक बच्चा फिलहाल नर्सरी में भर्ती है, बच्चे की ड्रेसिंग की गई है। हालांकि इस मामले में मानवाधिकार आयोग ने भी संभागायुक्त और संयुक्त संचालक, स्वास्थ्य सेवा से जांच कर 15 दिन में प्रतिवेदन मांगा है।

ये है पूरा मामला

एमवायएच अस्पताल की पहली मंजिल पर नर्सरी में एक नवजात भर्ती किया गया था। मंगलवाक देर रात बच्चे की मां उसे दूध पिलाने पहुंची तो पाया कि बच्चे के पैर का अंगूठा और एड़ी चूहे द्वारा कुतर दिए। बताया जा रहा है कि बच्चा प्री-मैच्योर था, उसका वजन करीब 1.4 किलो है। उसे देखरेख के लिए नर्सरी में रखा गया था, जहां सिर्फ मां को ही जाने की अनुमति है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password