Burhanpur: लापरवाही की इंतहा... अस्पताल के बाहर पड़े शव का चेहरा खा गईं चींटियां, किसी को नहीं लगी भनक...



Burhanpur: लापरवाही की इंतहा… अस्पताल के बाहर पड़े शव का चेहरा खा गईं चींटियां, किसी को नहीं लगी भनक…

गोपाल देवकर, बुरहानपुर। प्रदेश के बुरहानपुर जिले से अस्पताल की लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां अस्पताल के बाहर पड़े लावारिश शव के चेहरे को चींटियों ने कुतर डाला। मामला सामने आने के बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया है। मामले की जानकारी मिलने के बाद अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह सोलंकी तत्काल प्रभाव से अस्पताल पहुंचे और मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। मामला बुरहानपुर के जिला अस्पताल का है। दरअसल राजपुरा गांव के ईश्वरलाल काले का बीते कुछ महीने पहले पैर टूट गया था। इसके बाद उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कुछ दिनों तक परिजन साथ रहे इसके बाद चले गए। लंबे समय से परिजनों ने काले की सुध नहीं ली।

अस्पताल प्रबंधन ने जब परिजनों से बात की उन्होंने बुधवार को आने की बात की। अस्पताल प्रबंधन की मरीज की देखभाल कर रहा था। मंगलवार को मरीज की सुबह करीब 9 बजे मौत हो गई। मौत होने के बाद अस्पताल प्रबंधन ने सेकेंड फ्लोर पर ही एक कोने में शव को छोड़ दिया। यहां पहले से ही चीटियां थीं तो शव के चेहर की स्किन को कुतर डाला। जब बुधवार को परिजन अस्पताल पहुंचे तो देखा कि चेहरे की चमड़ी को चींटियों ने कुतर डाला। इसके बाद यहां हंगामा हुआ। यहां मौके पर लोग इकट्ठे हो गए। मामले की जानकारी मिलने के बाद अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह भी जिला अस्पताल पहुंच गए।

मामले की जांच के दिए आदेश…
वहीं मामला मीडिया में आने के बाद काफी हंगामा हो गया। यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं। वहीं अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह ने कहा कि मामले की जानकारी जिला कलेक्टर को दी गई है। साथ ही अस्पताल के कर्मचारियों के बयान भी दर्ज करा लिए हैं। वहीं कलेक्टर ने कहा कि अस्पताल प्रबंधन ने अच्छा काम नहीं किया है। इस मामले की जांच की जाएगी। इसके लिए आदेश जारी कर दिए गए हैं। अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके साथ ही सिविल सर्जन और RMO को नोटिस जारी किया गया है। मामले की बारीकी से जांच की जा रही है।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password