Budh Margi 2022 : बुध की शुभ दृष्टि से शुरू हो गए इन राशियों के अच्छे दिन, होने लगेगी तरक्की

Budh Margi 2022 : बुध की शुभ दृष्टि से शुरू हो गए इन राशियों के अच्छे दिन, होने लगेगी तरक्की

नई दिल्ली। अभी तक अपनी वृष Budh ki vakri chal 2022 राशि में वक्री चाल चल रहे बुध ने 1 जून Budh Margi in Taurus 2022: बुधवार यानि से अपनी Budh Margi 2022 सीधी चाल शुरू कर दी है। Bakri Budh आपको बता दें सीधी चाल चलते ही बुध की मार्गी चाल शुरू हो गई है। जिसके चलते ही 5 राशियों की किस्मत चमकेगी। पंडित रामगोविंद शास्त्री के अनुसार ग्रहों की चाल में स्थान के अनुसार एक—दो दिन का अंतर आ जाता है। budh ki ulti chal 2022 आपको बता दें 10 मई से बुध वक्री चाल चलने के बाद अब करीब 21 दिन बाद मार्गी Budh ka rashi parivartan हो गए हैं। जो 30 जून तक इसी स्थिति में रहेंगे। पंडित रामगोविंद शास्त्री के अनुसार कोई भी ग्रह जब सीधी चाल चलता है तो कुछ खास राशियों के लिए शुभ फल देने लगते हैं।

10 मई को हुए थे वक्री —
मई के महीने की शुरुआत में सबसे पहले बुध वक्री हुए थे। Zodiac Change in May 2022: इस दौरान वृष राशि में ही वृष ने उल्टी चाल शुरू कर दी थी। जिसके बाद उन्होंने 1 जून को इसी राशि यानि मेष में ही सीधी चाल शुरू की है।

ऐसी होती है बुध ग्रह की प्रकृति —
ज्योतिषाचार्य पंडित रामगोविंद शास्त्री के अनुसार बुध ग्रह मिथुन और कन्या राशि के स्वामी है। Vrishabh Rashi me Margi Budh 2022 अपने भ्रमण काल के दौरान जब बुध कन्या राशि में आता है तो उसे उच्च का कहा जाता है। जबकि मीन राशि में ये नीच के माने जाते हैं। कन्या राशि 16 से 20 अंश तक यह मूल त्रिकोण में माना जाता है।

मिश्रित स्वभाव का ग्रह है बुध —
बुध मिश्रित स्वभाव का ग्रह है। पापी ग्रह के साथ होने पर यह पापी हो जाता है। इसे हरा रंग का माना जाता है। किसी जातक का रंग जानने के लिए इसे श्याम Budh Margi June 2022 वर्ण का माना जाता है। इसमें पृथ्वी तत्व की प्रधानता होती है। वाणी, बुद्धि, चर्म, वात, पित्त और कफ का विश्लेषण बुध ग्रह से किया जाता है। बुध प्रधान लोग अक्सर लेखक, कवि, गणितज्ञ, बैंकर, सीए, चित्रकार, प्रखर वार्ताकार और तर्क से सब को परास्त करने वाले होते हैं। बुध ग्रह के प्रभाव से लोगों को बैंकर, चार्टर्ड अकाउंटेंट, व्यवसायिक बनते देखा गया है। अच्छे व्यवसाय के लिए जातक की कुंडली में बुध का मजबूत होना आवश्यक है। बुध राशि के जातक बहुत अच्छे शिल्पकार भी होते हैं। इस ग्रह को वैश्य जाति का ग्रह कहते हैं। इससे प्रभावित जातकों का भाग्योदय 32 वर्ष पर होता है।

वृष में मार्गी बुध इन राशि वालों के लिए होगी शुभ —

मेष राशि —
अगर आपकी राशि मेष है तो आपको बता दें आपके लिए मार्गी बुध बेहद खास रहने वाले हैं। बुध की मार्गी चाल आपकी जिंदगी में सुनहरे अवसर लेकर आएगी। आपको बड़ी सफलता हाथ लगने वाली है। इतना ही नहीं यदि कोई पुराने मामले लटके हैं तो उनका भी निपटारा हो सकता है। आर्थिक दृष्टि से दिन अच्छा बीतने वाला है। धन आगमन से समय अच्छा बीतेगा।

वृषभ राशि —
सभी कामों में एक के बाद बड़ी तेजी से सफलता मिलने लगेगी। कोई बड़े कॉन्‍ट्रेक्‍ट मिल सकता है। ये भी हो सकता है अच्छी खासी मोटी सैलरी वाला नौकरी का पैकेज भी हाथ लग जाए। अगर आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं तो आपको सफलता मिलेगी। लव मैरिज की इच्छा रखने वालों के लिए भी ये गोचर काल खास रहने वाला है।

House Renting Tips : मकान किराए पर देने वाले पढ़ लें ये खबर, वरना बढ़ सकती है परेशानी

सिंह राशि —
मार्गी बुध सिंह राशि वालों के लिए भाग्योदय लाएगा। करियर में बड़ी सफलता मिल सकती है। ये भी उम्मीद है कि आपको प्रमोशन और इंक्रीमेंट मिल जाए। सभी आपके कामों की तारीख करेंगे।

तुला राशि —
इस राशि वालों को मार्गी बुध करियर में बड़ी सफलता दिला सकते हैं। प्रमोशन का इंतजार कर रहे लोगों के लिए दिन खास रहने वाला है। अगर आप नौकरी बदलने की सोच रहे हैं तो उनकी ये इच्छा आज पूरी हो जाएगी। इंवेस्‍टर्स को लाभ भी लाभ का समय है।

वृश्चिक राशि —

वृश्चिक राशि वालों को किस्‍मत का साथ मिलेगा। करियर में शुभ फल मिलेंगे। मेहनत रंग लाएगी। तरक्‍की के योग बनेंगे। आय के स्त्रोत भी बढ़ेंगे। व्‍यापारियों के लिए यह समय खास रहने वाला है।

Surya Ka Gochar : इन राशियों के लिए एक महीना है खतरनाक

बुध के बेहद आसान 6 उपाय —

हरी वस्तुओं का दान।
गाय को हरा चारा खिलाएं।
9 कन्याओं को हरें रुमाल दान करें।
गणेशजी को दूर्बा चढ़ाएं।
घर के आसपास सूखे पौधे हटाकर नया पौधा लगाएं।
तुलसी का पौधा दान करें।

बुध का यह गोचर व्यक्ति की बुद्धि में परिवर्तन लाएगा। इस दौरान उन्हें हर कार्य बड़ी ही सावधानी के साथ करने की सलाह दी जा रही है। चूंकि बुध ग्रह हरा तत्व प्रधान भी है। इसलिए इस दौरान हरी रंग प्रधान वस्तुओं जैसे हरी सब्जी, हरी दालों आदि के दाम बढ़ सकते हैं।

Dangerous dosh in Kundali : कुंडली के 5 सबसे खतरनाक दोष! जो देते हैं बुरे समय के संकेत, जानें उपाय

आपके किस भाव में हैं बुध —
पंडित रामगोविन्द शास्त्री के अनुसार जिन जातकों की कुंडली में बुध आठवें, चौथे और बारहवें भाव में होता है। साथ ही साथ जिन्हें नीच के बुध हैं उन्हें विशेष सावधान रहने की जरूरत होती है। इसके ​अलावा धनु राशि में गोचर करने पर यह इस राशि के लिए शुभ रहेगा। बुध ग्रह कन्या राशि में उच्च के और मीन राशि में नीच के माने जाते हैं।

कमजोर बुध के संकेत —

बुध ग्रह बुद्धिमत्‍ता, वाणी, सौंदर्य, धन का कारक ग्रह है। लिहाजा आपकी जिंदगी में अचानक पैसों की तंगी हो जाए और आप कर्ज के बोझ से दबने लगें तो मान लीजिए कि आपका बुध ग्रह कमजोर हो रहा है।
अचानक मान हानि होने के साथ—साथ लोग आपका सम्‍मान बंद कर दें, बुध की कमजोरी के संकेत है।
आत्‍मविश्‍वास कम होना, खुद की बुद्धिमत्‍ता और निर्णयों पर संदेह करना।
महिला रिश्‍तेदारों जैसे बहन, बुआ, मौसी आदि से रिश्‍ते खराब होना।
दुर्बल होते जाना, जातक का तेज खत्‍म होना, चेहरा उतरा हुआ दिखने लगना।
बोलने और सुनने से जुड़े अंगों में समस्‍या।
दुर्बल बुध व्‍यापार में भी नुकसान कराता है।

Astro Tips For Oiling : कहीं रोज की जाने वाली Oiling परेशानियों का कारण तो नहीं? ज्योतिष शास्त्र से जानिए किस दिन तेल लगाना होता है शुभ

ऐसे कर सकते हैं बुध को मजबूत —
बुध को मजबूत करने के लिए हरे रंग की चीजों का उपयोग करें। साथ ही उनका दान भी करें। जैसे- हरी मूंग, पालक, हरे रंग के शरबत का दान करें। सुहागिन महिलाओं को हरी चूड़ियां भेंट करें। खीरा, हरी सब्जियां, फल खाएं। हरे रंग के कपड़े पहनें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password