बगावत करने पर बसपा ने सात विधायकों को किया निलंबित,विधानसभा सदस्यता रद्द करने की भी करेगी अपील

BSP suspends seven MLA

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव (Rajyasabha) के दौरान बसपा में बगावत सामने आने के बाद से बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने अपने सात विधायकों को निलंबित (BSP suspends seven MLA ) कर दिया है। बीएसपी ने जिन सात विधायकों को निलंबित किया है उसमें से विधायक असलम राइनी ( भिनगा-श्रावस्ती), हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), असलम अली (ढोलाना-हापुड़), मुजतबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-इलाहाबाद), हाकिम लाल बिंद (हांडिया- प्रयागराज), सुषमा पटेल ( मुंगरा बादशाहपुर) और वंदना सिंह ( सगड़ी-आजमगढ़) के नाम शामिल है।

विधानसभा की भी सदस्यता रद्द करवाने की अपील
बर्खास्त इन विधायकों पर बसपा के राज्यसभा उम्मीदवार के विरोध करने और अखिलेश यादव से मुलाकात के लिए कार्रवाई की गई है। मायावती (mayawati ) ने कहा कि इन विधायकों की विधानसभा की भी सदस्यता रद्द करवाने के लिए भी अपील करेंगे। समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव पर मायावती ने आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा का फोन तक नहीं उठाया। सपा ने मेरे खिलाफ बहुत बड़ी साजिश रची थी।

ये है मामला
राज्यसभा चुनाव में बगावत करने वाले सात विधायकों को बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने निलंबित कर दिया है। इन विधायको के निलबंन के बाद मायावती ने कहा कि एमएलसी के चुनाव में बसपा जैसे को तैसा का जवाब देने के लिए पूरी ताकत लगा देगी चाहे बीजेपी को वोट देना पड़े।

बसपा सपा प्रत्याशी के खिलाफ ही वोट करेगी
दरअसल, एक दिन में बसपा (BSP) के 7 विधायक बागी हो गए और समाजवादी पार्टी के खेमे में चले गए। इसके बाद बसपा बैकफुट पर आ गई लेकिन उसने अपने प्रत्याशी का नामांकन किसी तरह बचा लिया और अब उसका निर्विरोध राज्यसभा जाना तय हो गया है। उधर मामले में बसपा सुप्रीमो मायावती ने ऐलान किया है कि भविष्य में होने वाले किसी भी एमएलसी चुनाव में बसपा सपा प्रत्याशी के खिलाफ ही वोट करेगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password