अपनी विशेषताओं की वजह से दुनियाभर में मशहूर ब्रह्मकमल पुष्प भोपाल में ​खिला, दर्शन के लिए पहुंचे लोग

brahma kamal pushp

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी में देवताओं की शक्ति वाला दुर्लभ ब्रह्मकमल मिला है। ब्रह्मकमल हिमालय की वादियों में होता है और सिर्फ रात में ही खिलता है सुबह होते ही इसका फूल अपने आप बंद हो जाता है। अपनी विशेषताओं की वजह से यह दुनियाभर में लोकप्रिय है और लोग इसको देखने के लिए तरसते हैं। यह एकमात्र ऐसा फूल है जिसकी पूजा की जाती है और जिसे देवताओं को नहीं चढ़ाया जाता।

खुद देवता करते है वास
माना जाता है इसमें खुद देवताओं का वास रहता है। भगवान ब्रह्मा के नाम पर इस फूल का नाम पड़ा था। माना जाता है इस फूल के दर्शन मात्र से अनेक इच्छाएं पूरी हो जाती हैं। ब्रह्म कमल पुष्प की जानकारी लगते ही क्षेत्र के कई लोग वी के पांडेय के निवास पर ब्रह्मकमल पुष्प के दर्शन के लिए पहुंचे।

शनिवार शाम अचानक पुष्प खिलने

भोपाल में कृषि विभाग में कार्यरत वी के पांडेय के यहां ब्रह्मकमल मिला है। वी के पांडेय ने बताया गया कि पांच वर्ष पूर्व वह यह पौधा लाये थे, जिसमें शनिवार शाम अचानक पुष्प खिलने लगा। उन्होंने बताया कि इसका आध्यात्मिक और पौराणिक अधिक महत्त्व है। ब्रम्ह कमल को करीब 4 घंटे का समय लगा पूरा खिलने में और वह करीब 1 फ़ीट तक बढ़। इस दुर्लभ पुष्प की सुंदरता देखते ही बन रही था। ऐसा लग रहा था जैसे ब्रम्हा ने चांदनी इस पुष्प के द्वारा उनके निवास पर भेज दी हो।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password