Boris Johnson Resign: पद छोड़ने के दबाव के बाद बोरिस का इस्तीफा

Boris Johnson Resign: पद छोड़ने के दबाव के बाद बोरिस का इस्तीफा, जाने क्या है पूरी खबर

Boris Johnson Resignation: इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है जहां पर ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन (Boris Johnson)  ने लगातार दबाव के बाद इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा कि, संकट के बीच उन पर पद छोड़ने को लेकर लगातार दबाव बन रहा था।जिसके साथ देश में एक अभूतपूर्व राजनीतिक संकट का अंत हो गया। अब पार्टी के नये नेता का चुनाव होगा, जो नये प्रधानमंत्री होंगे।

 अक्टूबर में होगा कार्यक्रम

कंजरवेटिव पार्टी के एक सम्मेलन में नया नेता चुनने की प्रक्रिया पूरी होने तक जॉनसन (58) ‘10 डाउनिंग स्ट्रीट’ के प्रभारी बने रहेंगे। पार्टी का सम्मेलन अक्टूबर में होने का कार्यक्रम है। उनके द्वारा बृहस्पतिवार को औपचारिक रूप से इस्तीफा देने की घोषणा करने की उम्मीद है। ब्रिटिश प्रधानमंत्री के आधिकारिक आवास सह कार्यालय ‘डाउनिंग स्ट्रीट’ के प्रवक्ता ने कहा, ”प्रधानमंत्री आज देश के नाम एक बयान जारी करेंगे।” कई दिनों तक चले राजनीतिक घटनाक्रम के बाद यह कदम उठाया गया है। जॉनसन के मंत्रिमंडल के कई सदस्य मंगलवार से इस्तीफा दे चुके हैं। देश के नए वित्त मंत्री नदीम जहावी ने जॉनसन के इस्तीफे की मांग की है। जॉनसन के उन्हें नया वित्त मंत्री नियुक्त किया था, जिसके 36 घंटे बाद ही उन्होंने यह मांग कर डाली।

लगातार बढ़ रहा दबाव

इराकी मूल के जहावी ने एक पत्र लिखकर जॉनसन के नेतृत्व पर सवाल उठाया और कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री आपको पता है कि सही कदम क्या है…अब जाइए।’’ इससे पहले, जॉनसन के शीर्ष सहयोगियों में से एक ने बुधवार शाम दावा किया ‍था कि वह ‘‘ बेहद उत्साहित हैं’’ और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद पर बने रहने के लिए परेशानियों का डटकर सामना करेंगे। वहीं, गृह मंत्री प्रीति पटेल सहित मंत्रिमंडल में प्रधानमंत्री के कई करीबी अब उनके इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। जॉनसन के नेतृत्व पर उठ रहे सवालों के बीच उनके संसदीय निजी सचिव जेम्स डुड्रिज ने ‘स्काई न्यूज’ को बताया कि जॉनसन और ब्रिटेन के नये चांसलर नदीम जहावी बृहस्पतिवार को अर्थव्यवस्था पर एक संयुक्त योजना पेश करेंगे। डुड्रिज ने कहा, ‘‘ उनके पास देश के 1.4 करोड़ लोगों का समर्थन है और अभी उन्हें देश के लिए बहुत कुछ करना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मैं उम्मीद कर रहा हूं कि वह आज शाम तक मंत्रिमंडल के वरिष्ठ पदों पर नियुक्ति कर देंगे। मैं प्रधानमंत्री और उनके चांसलर नदीम जहावी की कल की घोषणाओं को लेकर भी उत्साहित हूं।’’ पार्टी के पूर्व उप व्हिप क्रिस पिंचर की नियुक्ति और उनपर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों का सही जवाब नहीं देने को लेकर मंगलवार को जॉनसन ने माफी मांगी थी, जिसके बाद से उनके 50 सहयोगी इस्तीफे दे चुके हैं।
 39 मंत्रियों ने अब तक दिया इस्तीफा

आपको बताते चले कि, पिछले एक महीने में ये दूसरी बार है जब बोरिस जॉनसन की कुर्सी पर संकट के बादल मंडरा रहे थे। जहां पर इस मामले में अब तक 39 मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया. इसके बाद पीएम जॉनसन पर भी कुर्सी छोड़ने को लेकर दबाव बढ़ रहा था। बता दें कि, जॉनसन ने लेवलिंग-अप हाउसिंग ऐंड कम्युनिटीज सेक्रेट्री माइकल गोवे (Michael Gove) को उनके पद से बर्खास्त कर दिया है।

पढ़ें ये खबर भी

Britain Government Crisis: आखिर क्या हुआ ऐसा, दो मंत्रियों के अचानक इस्तीफा देने से बढ़ा संकट

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन आखिरकार कंजरवेटिव पार्टी (टोरी) के नेता के तौर पर इस्तीफा देने के लिए बृहस्पतिवार को सहमत हो गए, जिसके साथ देश में एक अभूतपूर्व राजनीतिक संकट का अंत हो गया। अब पार्टी के नये नेता का चुनाव होगा, जो नये प्रधानमंत्री होंगे।
Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password