चंबल नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की मौत, कई लोग अभी भी लापता

boat full of people going to visit temple overturned in river, 11 death

जयपुर। राजस्थान के कोटा में कमलेश्वर मंदिर में दर्शन करने के लिए जा रहे लोगों से भरी नाव चंबल नदी में पलट गई। इस हादसे में पानी में डूबने से 11 लोगों की मौत हो गई है। मृतकों में 6 पुरुष, 4 महिलाएं और 1 बच्चा शामिल है। नाव चलाने वाला तैरकर बाहर निकल आया। जबकि 20 लोगों को रेस्क्यु किया गया है अब भी कई श्रद्धालु लापता बताए जा रहे हैं।

 

 

बताया जाता है कि नाव में 40 श्रद्धालुओं के अलावा 14 बाइक भी रखी हुई थी। नाव जरूरत से ज्यादा वजन सहन नहीं कर सकी और बीच धार में जाकर पलट गई।बताया जा रहा है कि ये लोग सभी कमलेश्वर धाम जाने के लिए नाव में बैठकर चंबल नदी पार कर रहे थे। घटना के बाद से पुलिस और प्रशासन की टीम रेस्क्यु ऑपरेशन में जुटी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 1 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

ये है मामला
राजस्थान के कोटा जिले में चंबल नदी में बुधवार सुबह एक नाव पलट गई। नाव में क्षमता से ज्यादा लोग मौजूद थे और सामान भी रखा हुआ था। इस नाव में करीब 40 लोग सवार थे। 20 लोगों को बचा लिया गया। अभी तक 7 शव बरामद हो चुके हैं जबकि 8 लोग लापता बताए जा रहे हैं। हादसा खातौली इलाके में सुबह 10 बजे के करीब हुआ। नाव पर बुजुर्ग, महिलाएं और बच्चें भी सवार थे। कई लोग खुद तैर कर बाहर आए जबकि कई लोगों को ग्रामीणों ने बचाया।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने चिंता जताई
घटना के बारे में जैसे ही पता चला वैसे ही आस-पास के इलाकों से ग्रामीण मदद करने के पहुंचे। जानकारी के मुताबिक यह घटना गोठला कला के पास कमलेश्वर धाम को जाते हुए हुआ। जानकारी मिलते ही इटावा क्षेत्र के पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे, फिलहाल लापता दस लोग की जानकारी जुटाने की कोशिशें जारी हैं।

जिला प्रशासन के साथ संपर्क किया

इस हादसे को लेकर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने चिंता जताई है। साथ ही लोकसभा सचिवालय ने जिला प्रशासन के साथ संपर्क किया है। इसके अलावा कोटा से एसडीआरएफ टीम घटना स्थल के लिए रवाना कर दी गई हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password