Black Out: अंधेरे में डूब सकता है प्रदेश, 1 नवंबर मंडरा रहा ब्लैक आउट का खतरा, हड़ताल पर जाएंगे कर्मचारी

Black Out: अंधेरे में डूब सकता है प्रदेश, 1 नवंबर मंडरा रहा ब्लैक आउट का खतरा, हड़ताल पर जाएंगे कर्मचारी

electricity crisis mp

भोपाल। प्रदेश समेत पूरे देश में दीवाली की तैयारियां जोरों पर हैं। चारों तरफ घरों को रौशनी से नहलाने की तैयारी की जा रही है। ऐसे में मप्र में ब्लैक आउट का खतरा मंडराने लगा है। इसकी वजह 1 नवंबर से बिजली कर्मचारियों का हड़ताल पर जाना है। दरअसल बिजली विभाग के कर्मचारी डीए और वेतन वृद्धि की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर प्रदेश के 70 हजार बिजली कर्मचारी एक नवंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल (Indefinite Strike) पर जा रहे हैं। अगर कर्मचारी हड़ताल पर जाते हैं तो ऐसे में प्रदेश में बिजली का संकट मंडरा रहा है। बता दें कि प्रदेश के बिजली विभाग में वर्तमान में 29 हजार नियमित कर्मचारी, 6 हजार संविदा कर्मचारी और 35 हजार आउट सोर्स कर्मचारी हैं। ये कर्मचारी बीते कई दिनों से वेतन बृद्धि और डीए को लेकर मांग कर रहे हैं। कर्मचारियों ने अपनी मांग को लेकर सभी जिलों के कलेक्टर को ज्ञापन दिया है। कर्मचारियों का कहना है कि हम ऊर्जा मंत्री को पहले भी इसको लेकर ज्ञापन दे चुके हैं। साथ ही पुराने आश्वासन की याद दिला रहे हैं। कर्मचारियों का कहना है कि वेतन वृद्धि तत्काल देने के साथ बकाया राशि के भुगतान का अनुरोध ऊर्जा मंत्री से किया गया था। इस अनुरोध को लेकर मंत्री ने भरोसा दिया था कि इन मुद्दों पर कार्रवाई की जाएगी बिजली वितरण कंपनियों ने इस दिशा में अभी तक कोई पहल नहीं की है। इसी को लेकर 1 नवंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल की जाएगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password