रेमडेसिविर की कालाबाजारी का खुलासा, कोविड प्रभारी मंत्री और सांसद ने इंजेक्शन जब्त करवाकर पुलिस के हवाले किया

indore news

भोपाल। भोपाल, इंदौर के बाद अब सतना में भी रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी का मामला सामने आया है। मैहर सिविल अस्पताल में कोविड प्रभारी मंत्री और सांसद के सामने ही खुलासा हुआ जो कोविड सेंटर का निरीक्षण करने पहुंचे थे जहां कोविड प्रभारी मंत्री रामखेलावन पटेल और सांसद गणेश सिंह ने रेमडेसिविर की कालाबाजारी पकड़ी और मौके पर इंजेक्शन जब्त कराए। मैहर आस्पताल की सरकारी सप्लाई का इंजेक्शन बाजार में 13 हजार में मिलना पाया गया। इसके बाद एक और बैग से सांसद ने इंजेक्शन को जब्त करवाकर पुलिस के हवाले किया। वहीं मामले में FIR न होने से कई सवार खड़े हो रहे।

पूरे सिस्टम पर सवाल खड़ा हो रहा
मैहर सिविल अस्पताल में बने कोविड सेंटर का निरीक्षण करने पहुंचे जिले के कोविड प्रभारी मंत्री रामखेलावन पटेल और सांसद गणेश सिंह के सामने इस मामले का खुलासा हुआ। मंत्री रामखेलावन पटेल और सांसद गणेश सिंह ने मौके पर पुलिस से रेमडीसीवीर के इंजेक्शन जब्त करवाए। बताया जा रहा है कि मैहर आस्पताल की सरकारी सप्लाई का इंजेक्शन खुले बाजार में 13 हजार में मिलना पाया गया। इसके बाद एक और बैग से सांसद ने इंजेक्शन को जब्त करवा कर पुलिस के हवाले किया। अब इस मामले को दबाने में स्वास्थ्य महकमा जुट गया है। अभी तक इस मामले में कोई एफआईआर न होने पूरे सिस्टम पर सवाल खड़ा हो रहा है।

इंदौर से भी आया चोरी का मामला
उधर इंदौर के शैल्बी अस्पताल में 139 रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी का मामला सामने आया है। अस्पताल प्रबंधन ने फाॅर्मेसी कर्मचारी के खिलाफ केस दर्ज करवाई है। पुलिस ने मंगलवार देर रात उसे हिरासत में भी लिया है। गिरोह में शामिल चार अन्य कर्मचारियों की भूमिका भी संदिग्ध है। तुकोगंज थाना टीआई कमलेश शर्मा के मुताबिक अचलपुरा जिला भिंड निवासी अनूप पुत्र जनकसिंह चौहान की शिकायत पर आरोपी भूपेंद्र शैलीवाल के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password