प्रदेश में ब्लैक फंगस बीमारी महामारी घोषित, लगातार बढ़ रही मरीजों की संख्या, अब तक मिले इतने केस

भोपाल: मध्य प्रदेश में कोरोना के बाद अब ब्लैक फंगस के बढ़ते केस ने चिंता बढ़ा दी है। इसके मरीजों की बढ़ती संख्य और तेजी से फैलने के कारण प्रदेश सरकार ने इसे महामारी घोषित कर दिया है। महामारी घोषित होने से सरकार के लिए इस बीमारी से पीड़ित मरीजों के इलाज की बेहतर व्यवस्था, दवाओं की बेहतर उपलब्धता सुनिश्चित करना संभव होगा। केंद्र सरकार ने दो दिन पहले ही इस बीमारी को महामारी घोषित करने के लिए कहा था।

हालांकि, मध्यप्रेदश के पहले तमिलनाडु, ओडिशा, असम, पंजाब ने म्यूकरमाइकोसिस यानी ब्लैक फंगस को महामारी रोग अधिनियम के तहत अधिसूचित किया है। राजस्थान ने पहले ही इसे महामारी घोषित कर चुका है।

प्रदेशभर के 8 मेडिकल कॉलेज में ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए आरक्षित 420 बेड पर 361 मरीज भर्ती हैं। खास बात है, राजधानी के हमीदिया अस्पताल में ब्लैक फंगस के लिए 80 बेड आरक्षित हैं, लेकिन यहां 90 मरीज भर्ती हैं।

म्यूकॉरमायकोसिस के लक्षण हर मरीज में अलग-अलग हो सकते हैं। यह इस बात पर निर्भर करते हैं कि यह फंगस आपके शरीर के किस भाग पर विकसित हो रहा है। आइए इसके कुछ आम व प्रमुख लक्षणों के बारे में जानते हैं। जैसे-

  • बुखार
  • आंखों में दर्द
  • खांसी
  • आंख की रोशनी कमजोर होना
  • छाती में दर्द
  • सांस का फूलना
  • साइनस कंजेशन
  • मल में खून आना
  • उल्टी आना
  • सिरदर्द
  • चेहरे के किसी तरफ सूजन
  • मुंह के अंदर या नाक पर काले निशान
  • पेट में दर्द
  • डायरिया
  • शरीर पर कुछ जगह लालिमा, छाले या सूजन आना
Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password