भाजपा नेता ने थामा कांग्रेस का हाथ, कुछ ही देर में पार्टी में शुरू हो गया विरोध

भोपाल। मप्र की 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में सबसे ज्यादा सीटें ग्वालियर चंबल की है और यहां सियासी उठापटक जारी है। बीजेपी ने पिछले दिनों महासदस्यता अभियान चलाकर दावा किया था कि कांग्रेस के हजारों कार्यकर्ता बीजेपी में शामिल हुए तो कांग्रेस भी बीजेपी खेमे में तोड़फोड़ करने में जुटी है। ग्वालियर से बीजेपी के नेता सतीश सिकरवार ने आज सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस की सदस्यता ली।

कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहते है
पीसीसी चीफ कमलनाथ ने नेता सतीश सिकरवार को सदस्यता दिलाई। इस मौके पर सतीश सिकरवार ने कहा कि बगैर किसी लाभ के वो कांग्रेस में शामिल हुए है। सतीश सिकरवार ने इस दौरान कहा कि वो एकबार फिर कांग्रेस की सरकार और कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहते है। वहीं पीसीसी चीफ कमलनाथ ने भी कहा कि सतीश सिकरवार ने सच्चाई का साथ देने का फैसला किया है इसबात की उन्हें खुशी है।

विरोध दर्ज कराने के लिए पहुंचे
ग्वालियर के भाजपा नेता डॉ सतीश सिकरवार को पूर्व सीएम कमल नाथ ने तिरंगा दुप्पट्टा पहनाकर उनका स्वागत किया। पूर्व सीएम कमल नाथ ने कहा कि डॉ सतीश सिकरवार कांग्रेस में उनका स्वागत है। पिछले विधानसभा चुनाव में डॉ सिकरवार ग्वालियर पूर्व सीट से भाजपा के प्रत्याशी थे। कांग्रेस में शामिल होने के बाद उन्होंने कहा कि आज तक हम जिनसे लड़ते आए अब वो खुद भाजपा में हैं। उधर इन्हें कांग्रेस में शामिल हुए दो घंटे भी नहीं हुए थे कि पार्टी में इसका विरोध शुरू हो गया। ग्वालियर में कांग्रेस कार्यालय में इस पर विरोध दर्ज कराने के लिए ग्वालियर पूर्व विधानसभा के कार्यकर्ता पहुंच गए।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password