BJP MP’s Meeting In Delhi: दिल्ली में भाजपा सांसदों की बड़ी बैठक, यह बोलकर वापस लौट आए सीएम शिवराज

नई दिल्ली। भाजपा सांसदों की गुरुवार को दिल्ली में एक बड़ी बैठक (BJP MP’s Meeting In Delhi) बुलाई गई है। इस बैठक की अध्यक्षता भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा कर रहे हैं। इस बैठक में भाजपा के सभी सांसद भाग ले रहे हैं। इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए सीएम शिवराज सिंह भी पहुंचे थे। हालांकि सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh) इस बैठक को बीच में छोड़कर भोपाल वापस लौट रहे हैं। सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि प्रदेश में बाढ़ के हालातों को देखते हुए जेपी नड्डा की अनुमति लेकर मैं भोपाल वापस जा रहा है। सीएम शिवराज सिंह ने मीडिया को बताया कि ऐसा प्रदेश में आई बाढ़ के चलते वह वापस भोपाल लौट रहे हैं। सीएम ने कहा कि दतिया, शिवपुरी, श्योपुर में बाढ़ (Flood In MP) की स्थिति बहुत खराब है। मैंने यह बात जेपी नड्डा को बताई है, उन्होंने मुझे वापस लौटने की अनुमति दे दी है। अब शिवराज सिंह वापस भोपाल लौट आए हैं।

सीएम ने कहा कि एयरफोर्स, आर्मी को बचाव के काम में लगाया गया है। जबकि आज उन्होंने भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे किया जा रहा है। बता दें कि प्रदेश के कुछ जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain IN MP) के कारण बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। भिड, गुना, शिवपुरी, श्योपुर, दतिया, मुरैना और ग्वालियर (Rain In MP) में कई गांव बाढ़ के चपेट में हैं। यहां कई गांव पानी में पूरी तरह डूब गए हैं। प्रदेश में मूसलाधार बारिश में अब तक 7 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 25 लोग लापता बताए जा रहे हैं। बाढ़ में फंसे अब तक करीब 5 हजार लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है। अभी भी सेना के जवान पानी में फंसे लोगों को वोट और हेलीकॉप्टर के सहारे बाहर निकाल रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कभी कभी ऐसा मौका आता है जब जी जान से काम करने की आवश्यकता होती है। इस समय वह मौका है। अपनी पूरी ताकत से सामाजिक संगठनों तथा सभी का पूरा सहयोग लेते हुए बाढ़ प्रभावितों के लिए कार्य करें।

सीएम की लगातार बाढ़ क्षेत्र में नजर
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि राहत शिविरों के अलावा बाढ़ प्रभावित बस्तियों में भी भोजन स्वच्छ जल आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। टूटे मकानों की मरम्मत, बिजली की आपूर्ति बहाल करना, टूटे फूलों को दुरुस्त कराना, संचार व्यवस्था को बहाल करना आदि कार्य युद्ध स्तर पर किए जाए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ग्वालियर संभाग के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के निरीक्षण के उपरांत भोपाल लौटकर बुधवार की रात अपने निवास पर देर रात वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक ली। शिवपुरी और ग्वालियर चंबल संभाग के कुछ जिलों में तेज बारिश के पानी में कई गांव पूरी तरह डूब गए। कई जगह बाढ़ में लोग फंसे रहे। लोगों का रेस्क्यू करने के लिए सरकार को सेना के जवानों को उतारना पड़ा।

बीते दो दिनों में सेना के जवानों हजार से ज्यादा लोगों का रेस्क्यू किया है। शिवपुरी में तेज बारिश (Shivpuri Flood) में नदी पर बना पुल बह गया। साथ ही शिवपुरी जिले के पाढरखेड़ा स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर पानी भर गया। ट्रैक डूब जाने के बाद से ट्रेनों का यातायात प्रभावित हुआ है। यहां पहाड़ों से आया तेज पानी ट्रैक के नीचे की मिट्टी बहा ले गया। इस कारण यहां ग्वालियर से रतलाम जाने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस (Intercity Express) रात भर जंगलों में खड़ी रही। इसके साथ ही कई ट्रेनों को ट्रैक पर पानी भरने के कारण डायवर्ट किया गया है। करीब 1600 लोगों को पानी फंसने के बाद रेस्क्यू किया गया। कई जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain In MP) ने काफी मुश्किलें बढ़ा दी हैं। बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए सीएम शिवराज सिंह ने कई जगहों पर सेना की टीम भी उतारी है। हैलीकॉप्टर से लोगों का रेस्क्यू किया गया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password