भाजपा नेता ने महाराष्ट्र में कानून-व्यवस्था के मुद्दे को लेकर गृह मंत्री देशमुख पर निशाना साधा

जालना/औरंगाबाद/मुंबई, 30 दिसंबर (भाषा) महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता चन्द्रशेखर बावनकुले ने बुधवार को राज्य के गृह मंत्री व राकांपा नेता अनिल देशमुख पर ‘‘कानून-व्यवस्था बनाए रखने में असफल’’ रहने का आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग की।

पत्रकारों से बातचीत में बावनकुले ने आरोप लगाया कि बलात्कार के आरोपी एक राकांपा पदाधिकारी का देशमुख बचाव कर रहे हैं और पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर रही है।

महाराष्ट्र राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रवक्ता महेश तपासे ने मुंबई में पत्रकारों से कहा कि भाजपा उक्त पदाधिकारी की छवि खराब करने का प्रयास कर रही है।

बावनकुले ने कहा, ‘‘औरंगाबाद पुलिस ने उसके खिलाफ शिक्षक से बलात्कार का मामला दर्ज किया है, लेकिन चूंकि राज्य के गृह मंत्री उसका बचाव कर रहे हैं, इसलिए उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है।’’ उन्होंने कहा कि देशमुख को इस्तीफा दे देना चाहिए क्योंकि उन्हें पद पर बने रहने का कोई ‘‘नैतिक अधिकार’’ नहीं है।

उन्होंने राकांपा पदाधिकारी की गिरफ्तारी और फास्ट ट्रैक अदालत में उसके खिलाफ मुकदमा चलाने की भी मांग की।

बावनकुले ने राकांपा पदाधिकारी के मामले में शिवसेना नेता संजय राउत की चुप्पी पर भी सवाल उठाया। पूर्व मंत्री ने सवाल किया, ‘‘प्रवर्तन निदेशालय ने जब संजय राउत की पत्नी को सम्मन भेजा तो उन्होंने बहुत हो-हल्ला किया था। बलात्कार के इस मामले पर वह चुप क्यों हैं।’’

तपासे ने कहा कि संबंधित पदाधिकारी ने पुलिस से कहा है कि वह निराधार आरोपों को लेकर नार्को टेस्ट के लिए तैयार हैं। उन्होंने दावा किया, ‘‘महाराष्ट्र के युवा राकांपा की ओर आकर्षित हो रहे हैं और पार्टी के विस्तार में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। अल्पसंख्यक समुदाय से नया नेतृत्व उभर रहा है, लेकिन कुछ लोग इसे बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं।’’

इस बीच, भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने राकांपा पदाधिकारी की गरफ्तारी की मांग को लेकर जालना और मराठवाड़ा क्षेत्र में औरंगाबाद के क्रांति चौक पर प्रदर्शन किया।

भाषा अर्पणा दिलीप

दिलीप

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password