छत्तीसगढ़ में पहली बार बर्ड फेस्टिवल, गिधवा-परसदा से मिलेगी पहचान



छत्तीसगढ़ में पहली बार बर्ड फेस्टिवल, गिधवा-परसदा से मिलेगी पहचान

Image source: bemetara.gov.in

बेमेतरा: रविवार से दुर्ग वनमंडल में बेमेतरा जिले के अंतर्गत गिधवा-परसदा में पक्षी उत्सव का आगाज हो गया। गिधवा परसदा की पहचान आने वाले समय में अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर स्थापित होगी। जिसमें देशी और विदेशी पक्षी हर साल बड़ी संख्या में आते हैं। तीन दिनों तक चलने वाले गिधवा-परसदा में देश भर से आई पक्षी विज्ञानी अपने अनुभव साझा करेंगे और अपने ज्ञान से बर्ड वाचर्स को समृद्घ करेंगे।

इस आशय के उद्गार प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख राकेश चतुर्वेदी ने रविवार को प्रदेश के वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा हमर चिरई-हमर चिन्हारी के अन्तर्गत ग्राम-गिधवा-परसदा में त्रिदिवसीय पक्षी महोत्सव की शुरुआत करते हुए व्यक्त किए।

गिधवा-परसदा के बड़े सरोवरों में भी यह प्रवासी पक्षी जुटते हैं। इस धरोहर को सहेजने, इसके बारे में ज्ञान को साझा करने एवं इस बाबत और भी जानने बर्ड फेस्टिवल मनाने का निर्णय लिया गया। आयोजन में पक्षियों के सुंदर संसार के बारे में दिलचस्प बातें साझा की जाएंगी।

 

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password