बिहार चुनाव 2020: RJD के घोषणा पत्र में 10 लाख युवाओं को स्थाई नौकरी का वादा - Bihar Assembly Election 2020: RJD ghoshna patra promises permanent job to 10 lakh youth



बिहार चुनाव 2020: RJD के घोषणा पत्र में 10 लाख युवाओं को स्थाई नौकरी का वादा

पटना: RJD ने शनिवार को घोषणा पत्र जारी कर दिया है। इस घोषणा पत्र में कुल 17 मुद्दों को प्राथमिकता दी है। इन मुद्दों में रोजगार, कृषि, उद्योग, उच्च शिक्षा, महिला सशक्तीकरण से लेकर स्मार्ट गांव तक पर जोर दिया गया है। इसके साख ही पार्टी ने स्वयं सहातया समूह, पंचायती राज, स्वास्थ्य सेवा, खेल नीति को भी प्राथमिकता मिली है। इसके साथ ही राजद ने सरकार बनन पर किसानों के सभी कर्ज माफ करने का भी ऐलान किया है।

राजद ने किया 10 लाख नौकरियां देने का वादा

– RJD ने घोषणा पत्र में रोजगार और स्वरोजगार को प्राथमिकता दी है। इसके साथ ही राजद ने वादा किया है कि सरकार बनने पर 10 लाख नौकरियां देगे। वहीं संविदा कर्मचारियों की संविदा को खत्म करके सभी को स्थाई कर समान काम समान वेतन दिया जाएगा। सभी विभागों में निजीकरण खत्म करने को भी प्रमुखता में रखा गया है।

– रोजगार सृजन के लिए उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए नई औद्योगिक पॉलिसी के तहत प्रभावी टैक्स डिफरेंट और टैक्स वेवर स्कीम लाई जाएगी।

 

वृद्धा पेंशन, खेल नीति सहित किसानों के लिए भी घोषणा

– RJD ने वृद्धा पेंशन में पुरानी व्यवस्था लागू करने की बात कही है। इसके अलावा गांव को स्मार्ट बनाने पर जोर दिया गया है।

– जदयू के हर खेत तक सिंचाई के पानी की व्यवस्था के मुद्दे को RJD ने भी अपने घोषणा पत्र में शामिल किया है। सभी सिंचाई पंपों को सोलर पंप में तब्दील करने का वादा किया गया है। किसानों के सभी कर्ज माफ किए जाएंगे।

– इसके अलावा खेल नीति के तहत बिहार में बड़े खेल विश्वविद्यालय की स्थापना के साथ हर प्रमंडल (डिवीजन) में एक बड़े स्टेडियम के स्थापना को भी एजेंडे में शामिल किया गया है।

इससे पहले महागठबंधन ने भी किया था 10 लाख स्थाई नौकरी देने का वादा

गौरतलब है कि 17 अक्टूबर को महागठबंधन ने भी घोषणा पत्र जारी किया था जिसमें इसी तरह का वादा किया। जिनमें महागठबंधन ने अपने घोषणा पत्र ‘प्रण हमारा संकल्प बदलाव का’ में बेरोजगारी को मुख्य चुनावी मुद्दा बनाया। घोषणा पत्र में सरकार बनते ही कैबिनेट की पहली बैठक में 10 लाख स्थायी नौकरी देने के वादा किया गया है साथ ही शिक्षकों से समान काम के बदले समान वेतन देने का वादा किया गया है।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password