पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय को नहीं मिला NDA से टिकट, तो बोले- 'संघर्ष में ही बीता है मेरा जीवन' -

पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय को नहीं मिला NDA से टिकट, तो बोले- ‘संघर्ष में ही बीता है मेरा जीवन’

पटना: बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय को बीजेपी से टिकट नहीं मिला है। इससे पहले उन्हें जनता दल यूनाइटेड की उम्मीदवारों की सूची में भी नाम नहीं होने से निराशा हाथ लगी थी। बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय ने पिछले महीने ही स्वेच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) ले लिया था। उनके वीआरएस लेते ही उनके विधानसभा चुनाव लड़ने की पूरी संभावनाएं जताई जा रही थी। खबरों के मुताबिक पूर्व आईपीएस गुप्तेश्वर पांडेय ने सेवानिवृत्ति का कदम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर अपनी राजनीतिक पारी को शुरु करने के लिए उठाया था, लेकिन अब उन्हें ना तो NDA से टिकट मिला और ना ही JDU से मिला।

खबरों की मानें तो गुप्तेश्वर पांडेय को बक्सर से बीजेपी का टिकट चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। लेकिन बीजेपी ने बक्सर सीट से परशुराम चतुर्वेदी को अपना उम्मीदवार बनाया। अब गुप्तेश्वर पांडेय ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए अपने आगे के राजनीतिक भविष्य के बारे में बताया है। उन्होंने कहा है कि धीरज रखें, मेरा जीवन संघर्ष में ही बीता है।

पूर्व DGP सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा-

पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा- ‘मैं इस बार विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ रहा हूं। आगे उन्होंने लिखा कि अपने अनेक शुभचिंतकों के फ़ोन से परेशान हूं, मैं उनकी चिंता और परेशानी भी समझता हूं। आगे लिखा कि मेरे सेवामुक्त होने के बाद सबको उम्मीद थी कि मैं चुनाव लड़ूंगा लेकिन मैं इस बार विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ रहा। हताश निराश होने की कोई बात नहीं है। धीरज रखें, मेरा जीवन संघर्ष में ही बीता है।’

रविवार को ली जनता दल (युनाइटेड) की सदस्यता

बिहार के पूर्व महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास पहुंचकर नीतीश कुमार की पार्टी सत्तारूढ़ जनता दल (युनाइटेड) की सदस्यता ग्रहण की थी। जदयू की सदस्यता ग्रहण करने और राजनीतिक पारी की शुरुआत करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में पांडेय ने कहा था कि राजनीति को वे ज्यादा नहीं जानते। उन्होंने कहा, “नीतीश कुमार हमारे नेता हैं, उनके और पार्टी की तरफ से जो आदेश मिलेगा उसका पालन करेंगे।” बक्सर से चुनाव लड़ने के संबध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “पार्टी जो भी हमसे कहेगी वह करूंगा। अगर चुनाव लड़ने के लिए कहेगी तो चुनाव लड़ूंगा।” पूर्व डीजीपी ने आगे कहा, “मुझे अभी पता भी नहीं है कि राजनीति क्या होती है। जो भी हमारे नेता का आदेश होगा, उसका पालन होगा।”

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password