भोपाल के नर्सरी संचालक को अयोध्या से मिला 50 हज़ार पौधों का आर्डर

Ayodhya Pran-Pratishtha: भोपाल के नर्सरी संचालक को अयोध्या से मिला 50 हज़ार पौधों का आर्डर, रामपथ पर बिखरेंगे खुशबू

Ayodhya-Pran-Pratishtha
Share This

भोपाल। Ayodhya Pran-Pratishtha: अयोध्या में जब 22 जनवरी को रामलला की प्राण-प्रतिष्‍ठा का कार्यक्रम होना है। ऐसे में अयोध्या में तैयारियां जोर-शोर चल रही है। प्राण-प्रतिष्‍ठा के लिए देशभर से साम्रगी भी पहुंच रही है। इधर, भोपाल के नर्सरी संचालक रामकुमार राठौर को अयोध्या से फूलों के हजारों पौधों का आर्डर मिला है।

निसर्ग नर्सरी को मिला 50 हज़ार पौधों का ऑर्डर

दरअसल, अयोध्या के ( Ayodhya Pran-Pratishtha) रामपथ और धर्मपथ पर फूल लगाकर उसे हरा-भरा रखने की ज़िम्मेदारी भोपाल के एक नर्सरी मालिक को मिली है। भोपाल की निसर्ग नर्सरी को अयोध्या से 50 हज़ार पौधों का आर्डर मिला है। जिसमे करीब 35 हज़ार बोगनवेलिया के पौधे हैं। तो वहीं 15 हज़ार रिबूबिया अर्जेंटिया,रिबूबिया रोजिया और कोरनोकारपास के पौधों का ऑर्डर इस नर्सरी को मिला है।

रामकुमार राठौर ने दी जानकारी

नर्सरी के रामकुमार राठौर के मुताबिक बोगनवेलिया के 5 अलग-अलग रंगों के 35 हज़ार पौधे अब तक अयोध्या ( Ayodhya Pran-Pratishtha) भेजे जा चुके हैं। जिसमें सफेद,पीला,नारंगी,लाल,पर्पल और क्रीम कलर समेत अन्य कलर शामिल है।

रामपथ और धर्मपथ लगाए जाएंगे पौधे

जहां ( Ayodhya Pran-Pratishtha) रामपथ और धर्मपथ पर उन्हें लगाने का काम बड़े भाई रामप्रकाश राठौर कर और देख रहे हैं। निसर्ग नर्सरी के संचालकों को सिर्फ वहां पर पौधे पहुंचने का काम था पर श्री राम नगरी में श्रद्धा के कारण वह फ्री में पौधे लगाने का काम कर रहे हैं। अभी तक दो ट्रक पौधे पहुंच चुके हैं और एक ट्रक पौधे जाना शेष है।

Image

कम पानी में पौधे रहेंगे हरे-भरे

रामकुमार राठौर के मुताबिक बोगनवेलिया के पौधे का चयन इसलिए किया गया है क्योंकि इसे बहुत ज्यादा पानी की ज़रूरत नहीं होती और इसका पौधा तेज़ गर्मी को भी झेल लेता है. जितना गर्मी पड़े उतना ही इसका पौधा फलता-फूलता है, हर तरीके की मिट्टी में और हर सीजन में फूल देता और इसकी देखरेख भी काम करना पड़ती है। इसलिए इसका चयन किया गया है।

टेंडर जरिए मिला ऑज ऑर्डर

रामकुमार राठौर के मुताबिक अयोध्या से उनकी नर्सरी की वेबसाइट को देखकर संपर्क किया गया था और करीब 4-5 लोगों का एक दल 4 दिनों तक भोपाल में उनकी नर्सरी को देखने के लिए रुका और अयोध्या जाकर ओपन टेंडर खोले गए। इस टेंडर बिड में देश की करीब आधा दर्जन बड़ी फर्म ने भाग लिया लेकिन इसकी ज़िम्मेदारी मिली भोपाल की निसर्ग नर्सरी को

मेंटेनेंस राशि नहीं लेंगे नर्सरी संचालक

निसर्ग नर्सरी के रामकुमार राठौर के मुताबिक उनके भाई बड़ी बड़ी संस्थाओं में हॉर्टिकल्चर का ठेका लेते रहते हैं। जिसमे भोपाल की ज्यूडिशियल लॉ अकेडमी, भोपाल मेमोरियल अस्पताल, बीना रिफायनरी, इसरो और आयशर प्लांट शामिल है।

Image

जिनसे वो फूलों की रखरखाव का चार्ज भी लेते हैं। लेकिन श्री राम की नगरी में फूल लगाने के बाद उसकी मेंटेनेंस राशि के रूप में वो एक रुपया नहीं ले रहे क्योंकि इस काम को प्रभु राम की सेवा के तौर पर देख रहे हैं।

ये भी पढ़ें: 

Balod Crime News: मां और 2 माह के बेटे को कुल्हाड़ी से काटा, पत्‍नी की हालत गंभीर, हत्या के बाद गांव में घूमता रहा सनकी

Bhopal News: आंचल चिल्ड्रन होम संचालक गिरफ्तार, 26 बच्चियां लापता होने के बाद आया था सुर्खियों में

MP News: स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 के नतीजे जारी, इंदौर को 7 स्टार शहर का दर्जा, ओडीएफ डबल प्लस निकायों की संख्या 361 हुई

Raipur News: पुलिस ने सजाई गीत-संगीत की महफिल, CSP सुरेश ध्रुव ने गाया- ‘जीवन के दिन छोटे सही…’  

MP News: 27 स्कूल टीचरों की तलाश कर रही भोपाल पुलिस, डीपीआई ने सभी जिलों के डीईओ को भेजा लेटर

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password