Bhopal Rape Case: दुष्कर्म मामले में जांच के लिए SIT गठित, पीड़ित परिवार को 80 हजार की आर्थिक सहायता

 

भोपाल। राजधानी भोपाल में एक छात्रा साथ दुष्कर्म Bhopal Rape Case  की घटना के एक माह बाद भोपाल डीआईजी ने कोलार थाना प्रभारी सुधीर अरजरिया को कारण बताओ नोटिस जारी किया है साथ ही पीड़ित परिवार को 80 हजार की आर्थिक सहायता भ्री दी गई है।

कोलार थाना प्रभारी सुधीर अरजरिया को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए जांच के लिए SIT गठित कर दी गई। अब इसकी जांच हबीबगंज सीएसपी भूपेंद्र सिंह करेंगे। CSP भूपेंद्र सिंह के नेतृत्व में बनी SIT में दो SI और एक ASI को शामिल किया गया है। इसमें कोलार थाने की SI स्वेता शर्मा मुख्य विवेचना अधिकारी होंगी, जबकि गौतम नगर थाने के SI सुरेश प्रताप सिंह चंदेल के साथ शाहपुरा थाने के ASI उपेंद्र सिंह उनकी मदद करेंगे।

राहुल गांधी ने किया ट्वीट
उधर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि भोपाल रेप पीड़िता एक महीने बाद भी न्याय से कोसों दूर है क्योंकि भाजपा हमेशा पीड़िता को ही रेप का ज़िम्मेदार ठहराती है और कार्यवाही में ढील देती है जिससे अपराधियों का फ़ायदा होता है। यही है सरकार के ‘बेटी बचाओ’ का सच!

ये है मामला
राजधानी भोपाल के एक इलाके में रहने वाली छात्रा बीते 16 जनवरी को छेड़खानी की शिकार ​हो गई थी,लेकिन उस समय कोलार पुलिस ने छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया था। एक दिन पहले पीड़िता ने अपने बयान में कई खुलासे किए। खुलासा करते हुए पीड़िता ने कई तरह की बात बताई। मामला मीडिया में आने के बाद प्रशासन जागा और SIT गठित की।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password