BHOPAL: 52 वर्षीय इंंदौर के तहसीलदार श्रीकांत शर्मा की ह्दयाघात से मौत

एक पिता का सपना होता है कि उसके बेटे को सफल होते  देक पाए लेकिन कुदरत के आंगे भला किसकी चली है। ऐसी ही घटना सामने आई है भोपाल से जहां मेडिकल कालेज में अपने  बेटे का एडमिशन कराने भोपाल आए 52 वर्षीय तहसीलदार श्रीकांत शर्मा की शनिवार को ह्दयाघात से मौत हो गई।

क्या है पूरा मामला

शर्मा अपने बेटे )(पार्थ शर्मा) का मेडिकल कालेज में  एडमिशन कराने भोपाल आये थे। बताया जा रहा है आते वक्य उन्हें किसी भी तरह की कोई समस्या नहीें थी। पता नहीं अचानक उनके सीने में दर्द हुआ और उनका दुखद निधन हो गया।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने जताया दुख

वही आज इस मामले में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने दुख जताया है और कहा कि वो बहुत अच्छे प्रशासनिक अधिकारी थे । जानकारी के मुताबिक  वे ढाई महीने पहले ही खरगोन से स्थानांतरित होकर इंदौर आए थे। तहसीलदार शर्मा इससे पहले भी इंदौर में रह चुके हैं। काम के प्रति सजग रहने वाले शर्मा इस समय भू-अभिलेख का कार्य देख रहे थे।वहीं तहसीलदार शर्मा के भाई अशोक शर्मा ने बताया कि रविवार सुबह रीजनल पार्क स्थित मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password