जहरीली शराब से मौत का मामला, कांग्रेस की जांच दल ने एक लाख की आर्थिक सहायता देने की कही बात -



जहरीली शराब से मौत का मामला, कांग्रेस की जांच दल ने एक लाख की आर्थिक सहायता देने की कही बात

poisonous liquor

भिंड। भिंड के लहार में जहरीली शराब से लोगों की मौत के बाद अब कांग्रेस ने विधायकों की टीम गठित कर मामले की जांच करने का फैसला किया है। पीसीसी चीफ और पूर्व सीएम कमलनाथ ने विधायकों का जांच दल गठित किया है, जो मौके पर जाकर रविवार को पीड़ित परिवारों से मुलाकात की। माना जा रहा है किे कांग्रेस का ये जांच दल अपनी रिपोर्ट पीसीसी को देगें। इस जांच दल में पूर्व मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह, लाखन सिंह, रामनिवास रावत, अशोक सिंह और प्रवीण पाठक को शामिल है।

कमलनाथ ने किया ट्वीट
पूर्व सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा कि प्रदेश में शराब माफ़ियाओं का क़हर जारी। अब ग्वालियर में ज़हरीली शराब से दो लोगों की मौत, कुछ लोगों की आंखो की रोशनी कम हुई ? उज्जैन, मुरैना, भिंड के बाद अब ग्वालियर में ज़हरीली शराब से मौतें। पता नहीं माफिया कब गड़ेंगे, कब टंगेंगे, कब लटकेंगे ?। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जहरीली शराब से मौतों का सिलसिला अनवरत जारी है। शराब माफियाओं के हौसले बुलंद बने हुए है। उज्जैन,मुरैना के बाद अब भिंड में ज़हरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत की जानकारी सामने आयी है।

कांग्रेस का एक जांच दल मृतकों के घर पहुंचा
लहार विधानसभा क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों पर कांग्रेस का एक जांच दल मृतकों के घर पहुंचा। जांच दल ने मृतक परिजनों से बातचीत की। बताया जा रहा है कि पीड़ित परिवारों ने पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े करते हुए कई तरह के आरोप लगाए। मृतकों के परिजन का कहना था कि पुलिस को इस बात की जानकारी थी कि शराब पीने से मौत हुई फिर भी शवों का पोस्टमार्टम नहीं होने दिया।

एक-एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता
पूर्व मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने मृतकों के परिवार को सांत्वना दी और कहा कि मैं इस घटना के बाद परिजनों के साथ हमेशा खड़ा रहूंगा। इस दौरान कांग्रेसी जांच दल द्वारा मृतक परिवारों को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की ओर से एक-एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की बात कही। साथ ही प्रदेश सरकार से भी चार-चार लाख रुपए दिलाए जाने का आश्वासन दिया। वहीं क्षेत्रीय विधायक एवं पूर्व मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने भी अपनी ओर से मृतकों के परिवार को 30- 30 हजार की सहायता देने की बात कही।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password