काफी सेहतमंद होते हैं ये फूल, इनके सेवन से दूर होती है कई बीमारियां

Benefits of Flower: फूलों का उपयोग हम आमतौर पर सजावट, पूजा-पाठ या फिर श्रृंगार के लिए करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि आज के समय में लोग फूलों का उपयोग हेल्थ बेनिफिट्स के लिए भी किया जाता है। जी हां, फूलों के अंदर कई तरह के गुण पाए जाते हैं। फूलों में पर्याप्त मात्रा में कैरोटीनॉइड, फ्लेवनोइड्स, फेनोलिक एसिड, एंथोसायनिन और फ्लेवौनोल्स पाए जाते हैं। जो कि एंटीऑक्सीडेंट की क्षमता को बढ़ाते हैं।

इतना ही नहीं फूलों में प्रोटीन, कैरोटीन, तेल, विटामिन और सैकराइड्स जैसे पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। तो अगर आप भी सेहतमंद रहने के लिए फूलों का उपयोग कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं किन फूलों का सेवन किस तरह की बीमारी के लिए फायदेमंद होता है।

गुलाब (Rose)

गुलाब के फूल का पौधा आपको लगभग हर तीसरे घर में देखने को मिल सकता है। हाल ही में हुए रिसर्च के मुताबिक गुलाब के फूल में भी एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। इसके साथ ही गुलाब में कई विटामिन और जरूरी खनिज का स्रोत होता है। आपको बता दें कि गुलाब कि पत्तियों को कई मीठे व्यंजनों को बनाने में भी उपयोग में लिया जाता है।

गुड़हल (Hibiscus)

गुड़हल के फूल में बहुत हेल्थ बेनिफिट्स होते हैं। क्योंकि गुड़हल में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। गुड़हल से पाचन संबंधित समस्याएं और महिलाओं में प्रजनन की समस्या से निपटने के काम आता है। इसके अलावा गुड़हल को मधुमेह और बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए भी उपयोग में लिया जाता है।
इन्हीं गुणों के कारण गुड़हल का फूल कई समस्याओं के लिए कारगार साबित होता है।

लैवेंडर (Lavender’s)

लैवेंडर के फूल में कई गुण होते हैं, इन गुणों के माध्यम से सेंट्रल नर्वस सिस्टम को रिलैक्स करने की मदद मिलती है। लैवेंडर का उपयोग बालों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

रोजमैरी (Rosemary)

आपको बता दें कि रोजमैरी के अंदर विटामिन ए, बी और सी प्रचूर मात्रा में पाया जाता है। इसके कई अन्य फायदे होते हैं, बता दें कि रोजमैरी को आयरन का भी अच्छा स्रोत माना जाता है।

सूरजमुखी (Sunflower)

सूरजमुखी के फूलों में बहुत से खनिज पदार्थ एवं विटामिन्स पाए जाते हैं। इनमें फ्लेवोनोइड्स भी मौजूद होता है। इतना ही नहीं सूरजमुखी के फूल के साथ-साथ इसके तनों और कलियों को भी काफी उपयोग में लिया जाता है। व्यंजन की बात करें तो इसका उसमें भी उपयोग किया जाता है।

नोट: ( यह लेख सामान्य जानकारियों के आधार पर लिखा गया है, कोई भी समस्या होने पर चिकित्सक का परामर्श जरुर लें)

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password