बात पते की: क्या आपने लिया कभी कोरोना शॉर्ट टर्म हेल्थ पॉलिसी का बेनेफिट, 30 सितंबर तक बढ़ाई डेट

Corona Short Term Policy: देश में कोरोना के मामले जहां पर बढ़ने लगे है वहीं पर चौथी लहर (Corona Fourth Wave) की दस्तक के साथ कोरोना के मामले अब फिर से डराने लगे है। कोरोना से खुद को और अपने परिवार को सुरक्षित रखने के लिए इंश्योरेंस से जुड़ी अपडेट सामने आई है जहां 30 सितंबर पर आप  इसका फायदा ले सकते है।

जानें सरकार ने क्या लिया फैसला

आपको बताते चलें कि, जहां पर सरकार ने कोरोना काल में दो हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ‘Corona Kavach’ और ‘Corona Rakshak’ शुरू की थी। अब इस स्कीम को अगले 6 महीने के लिए बढ़ाते हुए 30 सितंबर 2022 कर दिया है। बता दें कि, इंश्योरेंस रेगुलेटर IRDAI ने 31 मार्च 2022 को खत्म हो रही अवधि को आगे बढ़ाने का फैसला किया है। कोरोना काल में शुरू हुई ये दोनों पॉलिसी से लोगों ने लाभ उठाया है जिससे बीमारी के दौरान लगने वाले खर्चे से बचत और राहत मिली।

जानें कोरोना रक्षक पॉलिसी की खासियत

आपको इस पॉलिसी के बारे में बताते चले तो, एक प्रकार की फायदेमंद पॉलिसी है। यह पॉलिसी उस वक्त काम करती है जब पॉलिसी होल्डर कोरोना से संक्रमित हो जाता है। इस मौके पर एकमुश्त रकम दी जाती है। इसके अलावा यह पॉलिसी के अंतर्गत आपके PPE किट्स, ग्लव्ज और मास्क के खर्च को कवर किया जा सकता है। यहां पर इस पॉलिसी का फायदा लेने के लिए कम से कम 72 घंटे तक अस्पताल में भर्ती होना पड़ेगा। बता दें कि, कोरोना कवच इंडिविजुअल और फ्लोटर दोनों पॉलिसी है। जिसका फायदा आपके परिवार के सदस्य भी ले सकते है। इ्सके अंतर्गत पात्रता 18 से लेकर 65 साल की उम्र तक के लोगों के लिए होती है।

जानें दो पॉ़लिसी में कितना देना होता है प्रीमियम 

आपको बताते चलें कि, कोरोना कवच का प्रीमयम बीमा कंपनियों पर अलग-अलग निर्भर करता है। इसके साथ ही कोरोना कवच में प्रीमियम की राशि अलग-अलग कंपनियों में  निर्भर करता है। आप साढ़े छह महीने और साढ़े नौ महीने की भी पॉलिसी ले सकते हैं। उसका प्रीमियम भी कंपनी के हिसाब से अलग-अलग हो सकता है।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password