Baobab Plant: 17 हजार लिटर पानी स्टोरेज कर लेता है यह पेड़, अफ्रीका ने इसे ‘द वर्ल्ड ट्री’ का दिया है खिताब

baobab plant

Baobab Plant: देश और दुनिया में कई ऐसी चीजें हैं जिनके बारे में हम शायद ही जानते हो। इसी कड़ी में आज हम आपको एक ऐसे पेड़ के बारे में बताने जा रहे हैं। जो अपने तने में 1 लाख 20 हजार लीटर पानी जमा कर सकता है। सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लग रहा है, लेकिन यह सच है। आइए विस्तार से जानते हैं इस पेड़ के बारे में….

Baobab Plant 1
Baobab Plant 1

हिन्द महासागर में अफ्रीका के पूर्वी तट पर स्थित एक द्वीपीय देश है “मेडागास्कर” (Madagascar) जहां एक अजीब तरह का पेड़ है। इस पेड़ का नाम है बाओबाब (Baobab) हिंदी में इसे गोरक्षी कहते हैं। लगभग 30 मीटर उंचे और 11 मीटर चौड़े इस वृक्ष की बनावट ही बड़ी अजीब होती है। इसे एक नजर देखने पर ऐसा लगता है कि इनकी जड़े ऊपर और तना नीचे है।

Baobab Plant 2
Baobab Plant 2

इस पेड़ में साल के 6 माह ही पत्ते लगते हैं। अलग-अलग देशों में इसे कई नामों से पुकारा जाता है जैसे- बोआब, बोआबोआ, बोतल वृक्ष, उल्टा पेड़, कई बीजों वाला पेड़ आदि। बता दें कि अफ्रीका ने इस पेड़ को ‘द वर्ल्ड ट्री’ की उपाधि भी प्रदान की है। साथ ही इसे एक संरक्षित वृक्ष भी घोषित किया गया है। मेडागास्कर में कुछ बाओबाब वृक्ष बहुत पुराने हैं।

Baobab Plant 3
Baobab Plant 3

माना जाता है कि यहां कुछ वृक्ष रोमन काल से ही खड़े हैं। ऐसा ही एक वृक्ष इफेती शहर के पास भी स्थित है और इस पेड़ का नाम टी-पॉट बाओबाब है। रिपोर्ट के अनुसार यह पेड़ 1200 साल पुराना है और इसमें एक लाख सत्रह हजार तीन सौ अड़तालिस लीटर पानी स्टोरेज की क्षमता है। इस पेड़ को देखने पर लगता है जैसे मानों किसी ने इसे जमीन से निकालकर उल्टा रख दिया है।

Baobab Plant 5
Baobab Plant 5

आमतौर पर बाओबाब वृक्ष के तने में हजारों लीटर शुद्र पानी भरा रहता है जो पीने योग्य होता है। यह पानी वर्षा के अभाव में पीने के लिए काम में लिया भी जाता है। कहते हैं कि अलगर इस पेड़ को कोई कसी भी प्रकार से नुकसान ना पहुंचाए तो बाओबाब का वृक्ष लगभग 6 हजार वर्षों तक जिंदा रह सकता है। इस पेड़ की छाल में 40 फीसदी तक नमी होती है। इस वजह से यह जलाने के काम नहीं आती परंतु तने की भीतरी रेशेदार होती है जिससे कागज, कपड़े, रस्सी, मछली पकड़ने के जाल और कंबल आदि बनाए जाते हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password