Bank Loan : डिफॉल्ट होने के बाद भी आप ले सकते है लोन, ये हैं तरीका

Bank Loan : डिफॉल्ट होने के बाद भी आप ले सकते है लोन, ये हैं तरीका

Bank Loan : आज के समय में महंगाई की मार और घर के बढ़ते खर्चो के चलते जीवन यापन करना थोड़ा मुश्किल हो गया है। ऐसे में अपने व्यापार करने, घर बनाने और बच्चों की पढ़ाई के लिए एक मात्र विकल्प बैंक लोन लेना ही होता है। लेकिन अगर आप डिफॉल्टर है तो बैंक से लोन मिलना बड़ा ​मुश्किल हो जाता है। तो वही खराब क्रेडिट स्कोर के चलते भी आपको बैंक या कर्ज देने वाली संस्थान लोन देने से मना कर देते है। ऐसे में आपको सामने बड़ा संकट खड़ा हो जाता है। लेकिन इस संकट को दूर करना जरूरी होता है। हालांकि कुछ कर्जदाता ऐसे भी होते है जो आपके खराब क्रेडिट स्कोर होने के बाद भी लोन दे देते है। आज हम आपको कुछ ऐसी टिप्स बताने जा रहे है जो आपके डिफॉल्टर होने के बाद भी आपको लोन दिलाने में मद्द कर सकते है।

खराब स्कोर के बाद भी पाएं पर्सनल लोन?

पर्सनल लोन, कार लोन, बिजनेस लोन और होम लोन के लिए आपकी CIBIL अच्छी होना बेहद जरूरी होता है। जब भी बैंक या कोई वित्तीय संस्कान लोन देती है तो सबसे पहले वह कर्ज लेने वाले की सिविल पर पहले विचार करती है। अगर आपकी क्रेडिट स्कोर खराब है तो आवेदक को गैर-जिम्मेदार या जोखिम वाला ग्राहक माना जाता है। जब आप लोन डिफॉल्ट करते हैं तो CIBIL डिफॉल्टर्स की सूची में रजिस्टर्ड हो जाते हैं। जब आप डिफॉल्टर हो जाते है तो कर्ज मिलना मुश्किल हो जाता है। क्योंकि आप बैंक की नजरों में जोखिल वाले ग्राहक है। लेकिन हां पर्सनल लोन पाने के लिए आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा होना चाहिए लेकिन अपना क्रेडिट स्कोर आप तब तक अच्छा नहीं कर सकते, जब तक आपको पर्सनल लोन न मिले। तो लोन डिफॉल्टर्स होने पर पर्सनल लोन कैसे हासिल कर सकते हैं?

ऐसे ले सुरक्षित लोन

आप सुरक्षित निजी लोन यानी सिक्योर्ड पर्सनल लोन या गारंटी के एवज में लोन अप्लाई कर सकते हैं। जब आप लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो सोना, जमीन, फिक्स्ड डिपॉजिट जैसी संपत्तियां गिरवी रख सकते हैं। क्योंकि ऐसी स्थिती में कम जोखिम होने के कारण कर्जदाता लोन देने के लिए तैयार हो जाते हैं। अगर आप लोन में चूक करते हैं तो वह आपकी संपत्ति (गारंटी) जब्त कर लेगा।

ऐसे भी कर सकते हैं आवेदन

अगर आपका खराब क्रेडिट स्कोर है और आपको लोन नहीं मिल रहा है तो आप किसी ऐसे गारंटर के साथ अप्लाई कर सकते हैं, जिसका क्रेडिट स्कोर अच्छा हो। इस मामले में, गारंटर का क्रेडिट स्कोर माना जाएगा। लेकिन अगर आपने इस लोन पर डिफॉल्ट किया तो बकाया बैलेंस गारंटर से वसूला जाएगा।

अपने बैंक में करें कोशिश।

डिफॉल्टर होने के बाद आप ऐसे बैंक में आवेदन कर सकते है जिसमें आपका सेविंग्स अकाउंट हो। ऐसी बैंक में ग्राहक को बात करनी चाहिए। आप अपनी बैंक में बिना किसी झिझक के लोन के लिए आवेदन और लोन देने का अनुरोध कर सकते है। अगर आपके बैंक के साथ अच्छे रिश्ते हैं तो आपको बैंक किफायती डील दे सकता है। वही कई कंपनियों के बैंकों के साथ टाई-अप होते हैं, जो उनके कर्मचारियों को लोन और वित्तीय सुविधाएं देते हैं। अगर आपकी कंपनी के किसी बैंक के साथ टाई-अप है तो आप वहीं से पर्सनल लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

हालांकि आपको बता दें कि CIBIL डिफॉल्टर लिस्ट में होने के कारण लोन मिलना आसान नहीं होता है। लेकिन अगर सावधानी रखी जाए तो आप लोने लेने का रास्ता निकाल सकते है।

कम CIBIL स्कोर होने का क्या हैं कारण

खराब पेमेंट हिस्ट्री
क्रेडिट का ज्यादा इस्तेमाल
कई क्रेडिट इन्क्वॉयरी
CIBIL पर गलत रिपोर्ट
खराब क्रेडिट

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password