बैंक, आईटी शेयरों में तेजी से सेंसेक्स, निफ्टी नई ऊंचाईयों पर, लगातार दसवें दिन तेजी

मुंबई, पांच जनवरी (भाषा) शेयर बाजारों में मंगलवार को लगातार दसवें दिन तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 261 अंक उछलकर नये रिकार्ड स्तर पर बंद हुआ। वित्तीय और आईटी कंपनियों के शेयरों में मजबूत लिवाली से बाजार में तेजी रही।

कारोबारियों के अनुसार निरंतर विदेशी पूंजी प्रवाह से बाजार को समर्थन मिला। हालांकि, रुपये की विनिमय दर में गिरावट से तेजी पर कुछ अंकुश लगा।

कारोबार की शुरुआत में नकारात्मक रुख रहने के बावजूद 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स शुरूआती गिरावट से उबरते हुए अंत में 260.98 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की चढ़कर 48,437.78 अंक नये रिकार्ड स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 48,486.24 अंक के उच्चस्तर तक गया।

सेंसेक्स सात कारोबारी सत्रों में रिकार्ड स्तर पर रहा है।

इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 66.60 अंक यानी 0.47 प्रतिशत की तेजी के साथ 14,199.50 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 14,215.60 अंक तक चढ़ गया था।

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एक्सिस बैंक रहा। इसमें 6.31 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गई। इसके अलावा एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, टीसीएस, एशियन पेंट्स, टाइटन, एचसीएल टेक और आईसीआईसीआई बैंक लाभ में रहे।

दूसरी तरफ, जिन शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें ओएनजीसी, बजाज फाइनेंस, एनटीपीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रिलायंस इंडस्ट्रीज शामिल हैं। इनमें 2.06 प्रतिशत तक की गिरावट आयी।

रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीतिक मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, ‘‘आज बाजार शुरूआती गिरावट से उबरते हुए मजबूत हुआ। मुख्य रूप से बैंक और आईटी कंपनियों की अगुवाई में यह तेजी आयी। कोविड-19 मामलों में तेजी से सुधार के साथ जल्दी ही टीकाकरण शुरू होने तथा बेहतर आर्थिक आंकड़ों से बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘टीसीएस के तीसरी तिमाही के वित्तीय परिणाम से पहले आईटी कंपनियों के शेयरों में लिवाली देखी गयी… दिसंबर, 2020 का प्रमुख आर्थिक आंकड़ा उत्साहजनक रहा है। इसके साथ टीकाकरण के जल्द शुरू होने की उम्मीद से भी निवेशकों में भरोसा बढ़ा है। इसलिए, घरेलू इक्विटी बाजारों में लिवाली बनी रही सकती है।’’

एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कोस्पी और हांगकांग के हैंगसेंग में तेजी रही जबकि जापान का निक्की नुकसान में रहा।

शुरूआती कारोबार में एशिया के अन्य बाजारों में मिला-जुला रुख रहा।

इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.69 प्रतिशत मजबूत होकर 51.44 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। वहीं, अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 15 पैसे टूटकर 73.17 पर बंद हुआ।

भाषा

रमण महाबीर

महाबीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password