Bengal: जेपी नड्डा के काफिले पर हमला, कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर भी फेंके गए पत्थर, टीएमसी कार्यकर्ताओं पर आरोप

Image Source: [email protected]

Attack on JP Nadda Convoy in West Bengal: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे को लेकर पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल खड़ा हो गया है। आज दौरे के दूसरे दिन जेपी नड्डा के काफिले पर हमला कर दिया गया। यहां नड्डा के काफिले की गाड़ियों पर पत्थर फेंके गए। लाठी-डंडों से भी हमला किया गया। काफिले में मौजूद बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर भी पथराव किया गया। बीजेपी ने इस हमले का आरोप लगाया टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लगाया है।

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘इस हमले में मैं घायल हुआ हूं। बीजेपी अध्यक्ष की कार पर भी हमला किया गया। इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं। पुलिस के होते हुए भी हम पर हमला किया गया, ऐसा लगा जैसे हम अपने देश में ही नहीं हैं।

जानकारी के मुताबिक, बंगाल के दक्षिण 24 परगना (South 24 Paragana) में टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष का आरोप है, टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी अध्यक्ष नड्डा का काफिला रोकने की कोशिश की। इसी दौरान टीएमसी कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी की। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों ने जेपी नड्डा के काफिले को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

अराजकता ज्यादा दिन नहीं चलने वाली-नड्डा
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दक्षिण 24 परगना में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, आज मैं यहां आया हूं, तो रास्ते में मुझे जो दृश्य देखने को मिला, वो इस बात को बताता है कि ममता जी के राज में बंगाल अराजकता और असहिष्णुता का पर्यायवाची बन चुका है। आज मैं यहां पहुंचा हूं तो मां दुर्गा के आशीर्वाद से पहुंचा हूं। टीएमसी के गुंडों ने प्रजातंत्र का गला घोंटने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। ये अराजकता ज्यादा दिन नहीं चलने वाली है, ममता जी की सरकार यहां से जाने वाली है और बंगाल में कमल खिलने वाला है।

नड्डा ने कहा, मैं इसलिए सुरक्षित हूं क्योंकि मेरे पास बुलेट प्रूफ गाड़ी थी। वरना आज कोई ऐसी गाड़ी नहीं थी जिस पर हमला न हुआ हो। इस गुंडाराज को खत्म करके प्रजातंत्र को यहां आगे बढ़ाना है। यहां पुलिस और प्रशासन का राजनीतिकरण हो रहा है। हमें इसे रोकना है और यहां कमल खिलाना है।

 

 

 

 

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password