Assam-Meghalaya Disput: 50 साल पुराना सीमा विवाद आज होगा खत्म, समझौते पर दोनों सीएम करेगे हस्ताक्षर

Asam News

Assam-Meghalaya Disput: इन दिनों में कई मुद्दे में असम और मेघालय के 50 साल पुराने सीमा विवाद का आज अंत होने जा रहा है जिसमें इस मुद्दे पर आज यानि 29 मार्च  को दोनों राज्यों के CM हिमंत बिस्वा सरमा और केके संगमा दिल्ली में एक समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले हैं। बताते चलें कि, इस विवाद पर आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में दोपहर करीब साढ़े तीन बजे समझौैके पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।

लंबे समय से जारी है विवाद

आपको बताते चलें कि, यह विवाद लंबे समय से जारी है जहां पर दोनों राज्यों के बीच सीमा को लेकर तनातनी की स्थिति बनी रहती थी। बता दें कि, यह विवाद असम-मेघालय के बीच कुल 884.9 किलोमीटर का बॉर्डर विवाद है। जिसमें दोनों राज्यों के बीच 12 विवादित क्षेत्र है। बताया जा रहा है कि, आज की सहमति के बाद छह सीमा विवादों को सुलझाया गया था। बता दें कि, इससे पहले 29  जनवरी 2022 को ही अंतर-राज्य सीमा समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. तब दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ संयुक्त बैठक की थी। जिसके बाद आज बैठक हो रही है।

 

मेघालय सीएम ने दी थी जानकारी

आपको बताते चलें कि, मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा ने इस बैठक के बारे में मीडिया को बताया, “मुझे एक आधिकारिक सूचना मिली है कि गृह मंत्री अमित शाह ने 29 मार्च को शाम साढ़े चार बजे इस बैठक की तारीख़ तय की है, यह पत्र सीधे गृह मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव की ओर से आया है।

सुलझ गया आज 50 साल पुराना मुद्दा

इस खबर की जानकारी देते हुए असम के CM हेमंत बिस्वा सरमा ने बताया कि, 1970 में मेघालय को असम से अलग किया गया,लेकिन राज्य पुनर्गठन विधेयक में कांग्रेस इसे हल कर सकती थी। दोनों राज्य आंतरिक रूप से लड़ते रहे जिसके परिणाम स्वरूप हताहत हुए। हम पूर्वोत्तर के विकास के लिए शांति, विरासत और विकास (PHD) मॉडल पर काम कर रहे हैं। आगे कहा कि, असम-मेघालय ने 12 विवादों को सुलझा लिया गया है बाकी और मसले हैं उन्हें सुलझाया जाएगा। असम और मेघालय के बीच 50 साल पुराने सीमा विवाद के समाधान की शुरुआत आज हो गई है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password