Asian Champianship: फाइनल में पहुंचे टोक्यो ओलंपिक विजेता रवि दाहिया समेत 3 खिलाड़ी, जानें अपडेट

मंगोलिया। तोक्यो ओलंपिक के पदक विजेता रवि दहिया और बजरंग पूनिया तथा गौरव बालियान ने शनिवार को यहां दबदबे वाला प्रदर्शन करके एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनायी। सोनीपत के नहरी गांव के रहने वाले ओलंपिक रजत पदक विजेता रवि ने एक बार फिर अपनी शारीरिक क्षमता और रणनीतिक श्रेष्ठता का परिचय देते हुए पुरुषों के 57 किग्रा फ्रीस्टाइल में पहले जापान के रिकुतो अराई को हराया और बाद में मंगोलिया के ज़ानाबाजार जंदनबुड पर 12-5 से शानदार जीत दर्ज की।

जानें कैसा रहा प्रदर्शन

जापानी पहलवान ने शुरू में रवि को परेशान किया लेकिन एक बार अपने प्रतिद्वंद्वी को परखने के बाद भारतीय पहलवान उस पर हावी हो गया और आखिर में तकनीकी श्रेष्ठता से जीत हासिल की। सेमीफाइनल में मंगोलियाई पहलवान के खिलाफ रवि एक समय 0-4 से पीछे चल रहे थे लेकिन इसके बाद उन्होंने शानदार वापसी करके आसानी से जीत दर्ज की। इसके विपरीत तोक्यो ओलंपिक में कांस्य जीतने के बाद पहली बार किसी चैंपियनशिप में खेल रहे बजरंग (65 किग्रा) को फाइनल तक पहुंचने में कोई परेशानी नहीं हुई। उन्होंने उज्बेकिस्तान के अब्बोस रखमोनोव और ब्रूनेई के हाजी मोहम्मद अली को आसानी से हराकर स्वर्ण पदक के मुकाबले में प्रवेश किया।

10 पदक जीत चुका है भारत

गौरव (79 किग्रा) ने अपनी फुर्ती और तकनीकी के दम पर अनुकूल परिणाम हासिल किये। उन्होंने क्वार्टर फाइनल में तुर्कमेनिस्तान के गुरबनमायरत ओवेजबर्डियेव को केवल 28 सेकेंड में धूल चटा दी थी। सेमीफाइनल में किर्गिस्तान के अरसलान बुडाजापोव ने उन्हें कड़ी चुनौती दी। जब 14 सेकेंड का समय बचा था तब गौरव 4-5 से पीछे चल रहे थे लेकिन उन्होंने जल्द ही स्कोर 6-5 किया और आखिर में 8-5 से जीत हासिल की। भारत के दो अन्य पहलवान सत्यव्रत कादियान (97 किग्रा) और नवीन (70 किग्रा) कांस्य पदक के लिये भिड़ेंगे। भारत इस महाद्वीपीय चैंपियनशिप में अब तक दो रजत सहित 10 पदक जीत चुका है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password