आंगनवाड़ी कर्मियों के संगठन ने महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी को हटाने की मांग की

नयी दिल्ली, आठ जनवरी (भाषा) ‘ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स’ (एआईएफएडब्ल्यूएच) ने बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या मामले की पीड़िता के संदर्भ में राष्ट्रीय महिला आयोग की एक सदस्य की कथित टिप्पणी को लेकर उनको पद से हटाने की मांग की है।

खबरों के मुताबिक, बदायूं की घटना की पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने के बाद चंद्रमुखी देवी ने कहा कि अगर शाम के समय महिला नहीं गई होती या परिवार का सदस्य कोई साथ में होता तो ऐसी घटना नहीं होती।

एआईएफएडब्ल्यूएच-सीटू के एक प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को पीड़िता के परिवार से मुलाकात की। पीड़िता आंगनवाड़ी सहायिका थी।

संगठन ने एक बयान में कहा कि इस मामले की सुनवाई त्वरित अदालत में होनी चाहिए और परिवार को उचित मुआवजा तथा पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए।

उसने यह भी कहा कि पीड़िता के खिलाफ ‘अपमानजनक टिप्पणी’ करने के लिए चंद्रमुखी देवी को महिला आयोग के सदस्य पद से हटाया जाए।

एआईएफएडब्ल्यूएच-सीटू के प्रतिनिधिमंडल में एआईएफएडब्ल्यूएच की अध्यक्ष ऊषा रानी और कई अन्य लोग शामिल थे।

भाषा हक हक पवनेश

पवनेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password