Amravati Murder Case: हत्याकांड के मुख्य आरोपी पर पुलिस का एक्शन, आज कोर्ट में किया जाएगा पेश

Amravati Murder Case: हत्याकांड के मुख्य आरोपी पर पुलिस का एक्शन, आज कोर्ट में किया जाएगा पेश

नागपुर। Amravati Murder Case:  महाराष्ट्र के अमरावती शहर में एक केमिस्ट की हत्या के मामले में पुलिस ने कथित मुख्य आरोपी को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। यह इस मामले में सातवीं गिरफ्तारी है। पुलिस ने कहा कि यह हत्या का संबंध भाजपा की निलंबित नेता नुपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पोस्ट से हो सकता है। मामले को राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंप दिया गया है।

पुलिस ने इन आरोपियों को किया गिरफ्तार

अमरावती शहर पुलिस की अपराध शाखा ने स्थानीय निवासी इरफान खान (32) को शाम के समय नागपुर से गिरफ्तार कर लिया। शहर के पुलिस आयुक्त डॉ. आरती सिंह ने कहा कि उसने कथित तौर पर अमरावती में एक मेडिकल स्टोर चलाने वाले उमेश प्रहलादराव कोल्हे (54) की हत्या की साजिश रची थी और अन्य लोगों को इसमें शामिल किया था। अमरावती के श्याम चौक क्षेत्र के घंटाघर के पास 21 जून की रात करीब साढ़े 10 बजे उमेश की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी।इससे पहले, राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) की एक टीम केमिस्ट की हत्या के मामले की जांच के सिलसिले में शनिवार को महाराष्ट्र के अमरावती शहर पहुंची।

एनआईए की जांच पर फैसला

इस मामले की एनआईए जांच का केंद्र का यह फैसला इस आशंका के मद्देनजर लिया गया है कि केमिस्ट की हत्या भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से निलंबित नुपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पोस्ट का परिणाम हो सकती है। इससे पहले दिन में केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट करके जानकारी दी कि मामले की जांच एनआईए को सौंप दी गयी है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि एनआईए की एक टीम अमरावती पहुंच चुकी है। उन्होंने बताया कि राज्य पुलिस के आतंकवाद-निरोधक दस्ते (एटीएस) की एक टीम भी अमरावती शहर पहुंच रही है। कोल्हे की हत्या राजस्थान के उदयपुर में एक दर्जी की गला रेतकर हत्या किये जाने और इसकी ऑनलाइन वीडियो पोस्ट करने से एक सप्ताह पहले की गयी थी।

ऐसे रची थी साजिश

एनआईए उदयपुर के दर्जी कन्हैयालाल की हत्या की भी जांच कर रही है। सिटी कोतवाली पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘उमेश की अमरावती शहर में एक दवा की दुकान थी। उसने नुपुर शर्मा के समर्थन में कुछ व्हाट्सएप समूह में एक पोस्ट कथित तौर पर साझा किया था। उमेश ने गलती से यह पोस्ट एक ऐसे व्हाट्सएप समूह में भेज दिया था, जिसमें दूसरे समुदाय के सदस्य भी थे।’’ अधिकारी के मुताबिक इरफान ने उमेश की हत्या की कथित तौर पर साजिश रची और इसके लिए पांच लोगों की मदद ली। उन्होंने बताया कि इरफान ने उन पांच लोगों को 10-10 हजार रुपये देने और एक कार में सुरक्षित रूप से फरार होने में मदद करने का वादा किया था। पुलिस ने मुदसिर अहमद (22), शाहरुख पठान (25), अब्दुल तौफीक (24) शोएब खान (22) और अतीब राशिद (22) को गिरफ्तार किया है। सभी अमरावती के निवासी और दिहाड़ी मजदूर हैं। उन्होंने अपराध में प्रयुक्त चाकू को भी जब्त कर लिया और सीसीटीवी फुटेज हासिल कर ली। भाजपा ने पांच जून को अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा को निलंबित कर दिया था और भाजपा की दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन जिंदल को निष्कासित कर दिया था।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password