अमेरिकी अखबार का बड़ा खुलासा, गलवान झड़प में मारे गए थे 60 से ज्यादा चीनी सैनिक

नई दिल्ली: गलवान घाटी (Galwan valley) में हुई खूनी झड़प को लेकर अमेरिकी अखबार ने बड़ा खुलासा किया है। अमेरिकी अखबार ने अपने आर्टिकल में लिखा कि भारत और चीन के बीच 15 जून को हुए झड़प में 60 से ज्यादा चीनी सैनिक मारे गए थे। दुर्भाग्य से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ही भारतीय क्षेत्र में आक्रामक मूव के आर्किटेक्ट थे, लेकिन उनकी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) इसमें फ्लॉप हो गई। पीएलए से ऐसी अपेक्षा नहीं की जा रही थी।

दरअसल, मई की शुरुआत में ही लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) के दक्षिण में चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की कोशिश की थी। बीते 15 जून को चीन और भारतीय सैनिकों के बीच गलवान घाटी (Galvan Clash) में घूनी संघर्ष हुआ था। इस खूनी झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही चीन और भारत के बीच सीमा विवाद को लेकर तनाव और भी बढ़ गया है। इसके बाद चीनी सैनिक अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहे हैं। वह लगातार भारत में घुसपैठ की कोशिश में लगे हैं।

गलवान में हुई झड़प भारत-चीन के बीच 40 साल बाद पहली खतरनाक खूनी भिड़ंत थी। आपको बता दें, ज्यादातर दक्षिणी इलाके अब भारत के पास हैं, जो कभी चीन के पास हुआ करता था। अब चीनी सैनिक ऐसे ही इलाकों की तरफ बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं, जहां कोई उनकी रखवाली के लिए भारतीय सेनाओं की तैनाती नहीं की गई है।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password