Amazing Facts: इस कुर्सी पर जो बैठा वो मारा गया! जानिए इस शापित चेयर के पीछे का रहस्य

Amazing Facts

Amazing Facts: दुनिया भर में कई ऐसे रहस्य हैं, जिनसे पर्दा उठना अभी बाकी है। Amazing Facts में हमने आपको पहले बताया था कि कैसे ‘अमेरिका के ईस्टर्न कैलिफोर्निया में एक ऐसी जगह है जहां पत्थर अपने आप चलते हैं’। इस कड़ी में आज हम आपको एक ऐसे राज के बारे में बताने जा रहे हैं। जो हमे सोचने पर मजबूर कर देती है कि ये कैसे सच हो सकता है?

खौफ के कारण कुर्सी को लटका कर रखा गया है

दरअसल, ये कहानी है एक शापित कुर्सी की जो करीब 50 साल से अधिक पुरानी है। इस कुर्सी को लेकर दावा किया जाता है कि इस पर जो कोई बैठा वह किसी न किसी वजह से मारा गया। इस कुर्सी को इंग्लैंड के सर्कस म्यूजियम में रखा गया है। रखा मतलब जमीन पर नहीं, बल्कि इसे जमीन से कई फीट ऊपर लटकाया गया है, ताकि कोई इस पर गलती से भी बैठ न जाए।

पूरी दुनिया में होती है इस कुर्सी की चर्चा

इस रहस्यमयी कुर्सी की चर्चा पूरी दुनिया में है। कहा जाता है कि इस डेथ चेयर के कई किस्से हैं। जो लोगों में डर पैदा करता है। जानकारी के अनुसार ये कुर्सी थॉमस बस्बी नामक एक शख्स की थी। यह बस्बी की पसंदीदा कुर्सी थी। वो किसी को इस कुर्सी पर बठने नहीं देता था। लेकिन एक दिन गलती से उस कुर्सी पर उसके ससुर बैठ गए। इससे थॉमस काफी गुस्सा हो गया और उसने उनका मर्डर कर दिया।

थॉमस को फांसी पर लटका दिया गया था

इस मर्डर के कारण थॉमस बस्बी को फांसी के तख्ते पर लटका दिया गया। हालांकि मरने से पहले उसने कह दिया कि इस कुर्सी पर जो भी बैठने की हिमाकत करेगा वो मारा जाएगा। तब लोगों ने थॉमस के इस बात को गंभीरता से नहीं लिया और कई लोग इस कुर्सी पर बैठ गए। हालांकि चेयर पर बैठने के बाद कुछ ही दिनों में उनकी मृत्यु हो गई।

अब तक 63 लोगों ने गंवाई अपनी जान

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अब तक इस कुर्सी पर बैठने के प्रयास में करीब 63 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। इंग्लैंड में इस कुर्सी का लेकर इतना खौफ हो गया कि इसे एक म्यूजियम में रख दिया गया। म्यूजियम में भी इसे लटका कर रखा गया है। वहीं कुर्सी पर बैठने से हुए मौत को आज तक कोई सुलझा नहीं पाया है। इस कारण से आज भी इसे दुनिया भर में सबसे बड़ा रहस्य माना जाता है।

नोट- इस लेख को मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर तैयार किया गया है। पाठक इस जानकारी को अपने स्वविवेक के ग्रहण करें। बंसल न्यूज इस तथ्य की पुष्टी नहीं करता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password