रेलवे परियोजनाओं के लिए आवंटन में काफी कमी की गई : टीएमसी नेता

कोलकाता, चार जनवरी (भाषा) तृणमूल कांग्रेस ने सोमवार को रेलवे पर आरोप लगाया कि उसने पश्चिम बंगाल में केंद्र सरकार की कई परियोजनाओं में धन आवंटन में ‘‘काफी’’ कमी की है और जानना चाहा कि क्या मंत्रालय अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों को सीमित कर रहा है।

टीएमसी की वरिष्ठ नेता और पश्चिम बंगाल की मंत्री शशि पांजा ने संवाददाताओं से कहा कि रेलवे ने 2019 में कई ‘‘जन उन्मुखी’’ परियोजनाओं में सांकेतिक तौर पर एक हजार रुपये का आवंटन किया।

पांजा ने कहा, ‘‘रेलवे ने सियालदह कोच फैक्टरी के लिए 2018 में आवंटन चार करोड़ रुपये से कम कर 2019 में एक हजार रुपये कर दिया। इसी तरह से आसनसोल/हावड़ा कोच कार्यशाला और दीघा-जलेश्वर, आरामबाग-चापादंगा, जयरामबाटी-तारकेश्वर रेल लाइन परियोजनाओं के लिए भी एक-एक हजार रुपये का आवंटन किया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘प्रस्तावित लक्ष्मीकांतपुर-नामखाना लाइन को दस लाख रुपये आवंटित किया गया। अगर आम आदमी के लिए परियोजनाओं में धन आवंटित नहीं किया जाता है तो रेलवे अपने सामाजिक दायित्व को कैसे पूरा करेगा।’’

पांजा ने दावा किया कि ममता बनर्जी ने रेल मंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल में आधुनिकीकरण के लिए दस परियोजनाओं की योजना बनाई थी, जिन्हें रद्द कर दिया गया।

उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र की भाजपा सरकार ने ममता बनर्जी द्वारा रेलवे के लिए तैयार कार्ययोजना की जानबूझकर, सुनियोजित ढंग से उपेक्षा की है और आम आदमी के हितों की अनदेखी की है।’’

उन्होंने कहा कि केंद्र इसके बजाए गुजरात में बुलेट ट्रेन चलाना चाह रहा है।

भाषा नीरज नीरज प्रशांत

प्रशांत

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password