अजब-गजब: छत्तीसगढ़ का शिमला, जहां कदम रखते ही कांपने लगती है धरती

Ajab Gajab

रायपुर। दुनिया में कई रहस्यमयी जगहें हैं, जिनके बारे में लोग बड़े चाव से जानना चाहते हैं। ऐसे में आज हम आपको देश की एक ऐसी चमत्कारी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसके बारे में सुनकर आपको यकीन नहीं होगा। यह जगह छत्तीसगढ़ में स्थित है, यहां की धरती हिलती है। आप भी कूदकर आसानी से इस धरती को हिला सकते हैं।

दूर-दूर से सैलानी पहुंचते हैं

छत्तीसगढ़ के मैनपाट में शासन ने एक सूचना बोर्ड लगा रखा है। जिस पर लिखा है। यहां एक अजूबा है, यहां की धरती हिलती है। दरअसल, मैनपाट को छत्तीसगढ़ का शिमला कहा जाता है। यहां की जमीन बिना भूकंप के हिलती है। जलजली नदी के इलाके में पैर रखते ही यहां की धरती धंस जाती है और वहां से हटने पर गेंद की तरह वापस ऊपर की तरफ उठ जाती है। लोग जब इसपर उछलते हैं तो यह स्पंज की तरह हिलती है। इसे देखने के लिए लोग दूर-दूर से पहुंचते हैं।

ऐसी जमीन क्यों है?

मैनपाट की जमीन ऐसी क्यों है? इसके बारे में स्थानीय लोग और वैज्ञानिक अलग-अलग राय रखते हैं। स्थानीय लोगों का मानना है कि एक समय पर यहां जलस्रोत था। जो अब उपर से पूरी तरह से सूख गया है। मगर अंदर की जमीन अभी भी दलदली है। जिसके चलते यह जमीन हिलती है। वहीं वैज्ञानिकों का मानना है कि यहां पहले से कोई जलस्रोत नहीं था। बल्कि जमीन के नीचे आन्तरिक दवाब एवं खाली स्थान में पानी भरा हुआ है। जिसके चलते यहां की जमीन दलदली और स्पंजी है।

लोग यहां इंजॉय करने आते हैं

जानकार कहते हैं कि 1997 में जबलपुर में भूकंप आने के बाद होशंगाबाद नर्मदा के क्षेत्र में भी ऐसे ही दलदली क्षेत्र का निर्माण हुआ था। ठीक उसी प्रकार कभी मैनपाट के इलाके में भी भूकंप आया होगा। जिसके बाद यहां क जमीन भी दलदली हो गई है। हालांकि इसके पीछे कारण जो भी हो लेकिन अब ये जगह पर्यटकों के लिए किसी अजूबे से कम नहीं है। लोग यहां आलू का पठार, शिमला सा मौसम, तिब्बतियों का बसेरा, हिलती हुई धरती, जमीन पर उमड़ते-घुमड़ते बादल का नजारा लेने आते हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password