अजब -गजब: बच्चे के हाथ में फोन लगते ही डिलीट हो जाता है डेटा! डॉक्टर भी हैं हैरान

Aligarh

नई दिल्ली। हाल ही में हमने देखा कि लोग वैक्सीन लेने के बाद शरीर में धातु चिपक जाने की बात कर रहे थे। आपने भी कई ऐसे वीडियो भी देखे होंगे जिनमें ऐसा ही दावा किया जा रहा था। समय-समय पर कई ऐसे मामले हमारे सामने आते हैं जो हमें सोचने पर मजबूर कर देते हैं। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक ऐसा मामला सामने आया है जो आपको भी हैरान कर देगा। दरअसल, एक बच्चे का दावा है कि जैसे ही उसके हाथ में स्मार्टफोन आता है वह रीसेट हो जाता है। यानी फोन में मौजूद मैसेज, गैलरी और बाकी सब कुछ एक साथ डिलीट हो जाते हैं।

लोग दूर-दूर से देखने के लिए आ रहे हैं

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अलीगढ़ निवासी गौरव अग्रवाल के बेटे अस्तित्व के साथ कुछ ऐसी ही अजीबोगरीब घटनाएं हो रही हैं। इस घटनाक्रम ने उसे पूरे शहर में सुर्खियों में ला दिया है। लोग इस बच्चे को देखने के लिए दूर-दूर से आ रहे हैं। हालांकि, अस्तित्व के पिता इस घटना से काफी परेशान हैं। उन्होंने उसके शरीर की जांच भी कराई, डॉक्टर ने कहा कि सब कुछ ठीक है।

अचानक से गायब हो गया डाटा

ईटीवी भारत में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक अस्तित्व के माता-पिता को सबसे पहले 12 मई को इस बात का पता चला। उस दिन अस्तित्व ने घर में जिस सदस्य का फोन लिया उस फोन का डाटा अचानक गायब हो गया था। पिता ने पहले बच्चे को डांटा, क्योंकि उन्हें लगा कि अस्तित्व ने शरारत करके ऐसा किया है। इसके बाद वे मोबाइल कंपनी के सर्विस सेंटर गए और फोन ठीक करवाया। हालांकि, अस्तित्व अपनी बात पर अडिग था कि उसने फोन को रीसेट करने के लिए कुछ नहीं किया है। घरवालों ने तब इसे इग्नोर कर दिया।

बीपी मशीन भी दिखा रही है एरर

लेकिन, एक बार फिर ऐसा ही वाकया हुआ। दरअसल, 22 अगस्त को अस्तित्व अपनी मां के साथ ननिहाल गया था। वहां उन सभी लोगों का मोबाइल डेटा उड़ गया, जिनके मोबाइल फोन उसने हाथ में लिए थे। तब जाकर परिवार वालों का माथा ठनका। पिता गौरव अग्रवाल ने बेटे को डॉक्टर को दिखाया। डॉक्टर ने जैसे ही इलेक्ट्रॉनिक बीपी मशीन से बीपी नापने की कोशिश की वो भी एरर दिखाने लगी। हालांकि अस्ततिव का कहना है कि उसके अपने शरीर में किसी भी प्रकार का कोई बदलाव महसूस नहीं होता है। बस मोबाइल के उसके संपर्क में आने पर उसका डाटा गायब हो जाता है।

डॉक्टर सब नॉर्मल बता रहे हैं

बतादें कि शहर के फिजीशिन और न्यूरो सर्जन ने भी अस्तित्व की रिपोर्ट देखी है, लेकिन रिपोर्ट में सबकुछ नॉर्मल है। हालांकि डेटा डिलीट होने की बात से हर कोई हैरान है। परिजनों को लग रहा है कि अस्तित्व एक अजीब सी बीमारी से ग्रस्त है, लेकिन डॉक्टर उसके किसी भी बीमारी से पीड़ित होने की पुष्टि नहीं कर रहे हैं।

 

नोट- ‘बंसल न्यूज’ गौरव अग्रवाल और उनके बेटे अस्तित्व द्वारा किए गए दावे की पुष्टि नहीं करता है, हमने यह खबर मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर तैयार की है। ताकि यह अद्भुत जानकारी आपके साथ भी साझा की जा सके।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password