एनसीआर में वायु गुणवत्ता बेहद खराब, गाजियाबाद सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर -



एनसीआर में वायु गुणवत्ता बेहद खराब, गाजियाबाद सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर

नोएडा, 19 जनवरी (भाषा) गाजियाबाद,नोएडा एवं फरीदाबाद में मंगलवार को वायु गुणवत्ता ‘गंभीर श्रेणी’ में रही जबकि गुड़गांव में यह बेहद खराब श्रेणी रही। सरकारी एजेंसी ने मंगलवार को इस संबंध में आंकड़ा जारी किया।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के वायु गुणवत्ता सूचकांक के अनुसार दिल्ली से सटे इन शहरों में प्रदूषक कण पीएम 2.5 और पीएम 10 अहम रहे।

सूचकांक के मुताबिक, शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 100 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बेहद खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है।

बोर्ड की समीर एप के अनुसार मंगलवार को पूर्वाह्न चार बजे पिछले 24 घंटे का एक्यूआई गाजियाबाद में 436, ग्रेटर नोएडा में 434, नोएडा में 432 फरीदाबाद में 416 और गुड़गांव में 366 रहा।

सोमवार को यह सोमवार को गाजियाबाद में 381, नोएडा में 363, ग्रेटर नोएडा में 360, फरीदाबाद में 332 और गुड़ंगाव में 292 था।

भाषा राजकुमार उमा

उमा

Share This

एनसीआर में वायु गुणवत्ता बेहद खराब, गाजियाबाद सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर

नोएडा, 18 जनवरी (भाषा) राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के विभिन्न शहरों में सोमवार को वायु गुणवत्ता बेहद खराब रही और गाजियाबाद में प्रदूषण सबसे अधिक रहा।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के प्रदूषण सूचकांक ऐप ‘समीर’ के अनुसार सोमवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) गाजियाबाद में 393, नोएडा में 376 और ग्रेटर नोएडा में 372 दर्ज किया गया।

ऐप के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के फरीदाबाद में एक्यूआई 321 और गुरुग्राम में 284 दर्ज किया गया। वहीं, बुलंदशहर में एक्यूआई 358, बागपत में 308, हापुड़ में 122 दर्ज किया गया।

सूचकांक के मुताबिक, शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 100 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बेहद खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है।

भाषा सं सुरभि

सुरभि

Share This

0 Comments

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password