एयर कंप्रेसर, यूएचडी टीवी पर लंगेंगे बिजली बचत के सितारे

नयी दिल्ली, 11 जनवरी (भाषा) एयर कंप्रेसर और यूएचडी टीवी (अल्ट्रा हाई डेफिनिशन टेलीविजन) अब बिजली बचत के स्टार लेबलिंग कार्यक्रम के अंतर्गत आ गये हैं। बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार को दोनों उत्पादों के लिये ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) के इस प्रमुख ऊर्जा बचत कार्यक्रम की शुरूआत की।

इससे 2030 तक 18.16 अरब यूनिट बिजली बचत का अनुमान है।

इसके अलावा सिंह ने राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार (एनईसीए) कार्यक्रम के मौके पर राज्यों के लिये साथी पोर्टल की शुरूआत की। यह पोर्टल राज्यों के ऊर्जा दक्षता कार्यक्रम की वास्तविक समय आधार पर नजर रखने की सुविधा प्रदान करेगा।

सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हमें भविष्य में ऐसी महामारियों के लिये सावधान और सतर्क रहना चाहिए। महामारी के कारण जो स्थिति उत्पन्न हुई है, उससे हमारी अर्थव्यवस्था के समक्ष बड़ी चुनौती पैदा हुई है।’’

मंत्री ने यह भी कहा कि ऊर्जा दक्षता और संसाधनों के संरक्षण के आधार पर राज्यों की रैंकिंग की व्यवस्था तैयार की जा सकती है।

उन्होंने कहा कि राज्य राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित योगदान (एनडीसी) के अनुरूप जलवायु लक्ष्यों को पूरा करने के लिए व्यापक प्रतिबद्धताएं तैयार कर सकते हैं।

कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत 57 इकाइयों को पुरस्कृत किया गया। इस साल 409 इकाइयों ने एनईसीए में भाग लिया और सामूहिक रूप से 300.7 करोड़ यूनिट बिजली की बचत की। इस हिसाब से 1,503 करोड़ रुपये की तापीय ऊर्जा की बचत हुई।

बिजली सचिव संजीव नंदन सहाय ने कहा, ‘‘बिजली मंत्रालय ने ऊर्जा का अधिक उपयोग करने वाले एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम) के प्रदर्शन में सुधार के लिये कई पायलट परियोजनाएं तैयार की और क्षेत्र के लिये नीति रूपरेखा तैयार की। कृषि अगला महत्वपूर्ण क्षेत्र है जिसमें ऊर्जा दक्षता पर ध्यान दिया जाएगा।’’

मंत्रालय के बयान के अनुसार एयर कंप्रेसर और यूएचडी टीवी के लिये स्वैच्छिक आधार पर स्टार लेबलिंग कार्यक्रम शुरू किया गया है। ऊर्जा खपत मानक एक जनवरी, 2021 से प्रभावी होगा।

इस पहल से 2030 तक एयर कंप्रेसर के मामले में 8.41 अरब यूनिट और यूएचडी टीवी के लिये 9.75 अरब यनिट बिजली बचत का लक्ष्य है।

बीईई ने राज्य स्तर पर विभिन्न ऊर्जा संरक्षण प्रयासों के कार्यान्वयन की प्रगति की वास्तविक समय पर निगरानी की सुविधा के लिए एमआईएस (प्रबंधन सूचना प्रणाली) पोर्टल विकसित किया है। इसका नाम साथी (ऊर्जा दक्षता पर सालाना लक्ष्य को लेकर राज्यवार कदम और प्रगति) दिया गया है।

इस मौके पर राज्य स्तरीय गतिविधियों को लेकर राज्य नामित एजेंसी के लिए एक पोर्टल भी पेश किया गया।

भाषा

रमण महाबीर

महाबीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password