महाराष्ट्र कांग्रेस के नये अध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर एआईसीसी प्रभारी ने वरिष्ठ नेताओं से चर्चा की

मुंबई, छह जनवरी (भाषा) अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महाराष्ट्र प्रभारी एच के पाटिल ‘एक व्यक्ति एक पद’ की नीति को ध्यान में रखते हुए प्रदेश इकाई में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ परामर्श कर रहे हैं। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

सूत्रों ने बताया कि अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) समुदाय से आने वाले (कांग्रेस के) किसी नेता को महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी (एमपीसीसी) का नया अध्यक्ष नियुक्त किए जाने की संभावना है।

थोराट इस समय महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष के साथ-साथ राज्य की महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में राजस्व मंत्री भी हैं। वह कांग्रेस विधायक दल के नेता की जिम्मेदारी का भी निर्वहन कर रहे हैं।

दो दिवसीय दौरे पर आए पाटिल ने महाराष्ट्र में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण से मंगलवार रात को सहयाद्रि अतिथि गृह में चर्चा की और उसके बाद थोराट के साथ बैठक की।

उन्होंने बुधवार सुबह राज्य के लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण से भी मुलाकात की। बाद में पाटिल ने कांग्रेस के मंत्रियों, विधायकों और वरिष्ठ नेताओं से अलग-अलग बात की।

कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान पार्टी की मौजूदा स्थिति और इसमें नयी जान फूंकने के उपायों पर चर्चा की गई।

सूत्रों ने बताया, ‘‘ऐसा लगता है कि एक व्यक्ति एक पद के फार्मूले को लागू किया जाएगा। थोराट के पास महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष या एमवीए सरकार में मंत्री पद में से किसी एक पर बने रहने का विकल्प था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन उन्होंने (थोराट) ने संगठन के पद को छोड़ने की इच्छा जताई है।’’

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष के पद की दौड़ में कांग्रेस के गुजरात प्रभारी राजीव सातव, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री अमित देशमुख, यशोमति ठाकुर, विजय वडेट्टीवार और विश्वजीत कदम शामिल हैं।

सातव को कांग्रेस नेता राहुल गांधी का करीबी माना जाता है और इस समय वह महाराष्ट्र से राज्यसभा सदस्य हैं।

सूत्रों ने कहा कि थोराट के स्थान पर किसी ओबीसी नेता को प्रदेश कांग्रेस की कमान सौंपी जाएगी।

भाषा शफीक सुभाष

सुभाष

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password