Agneepath Airforce Recruitment Scheme : आज से अग्निवीरों के लिए शुरू हुए रजिस्ट्रेशन

Agneepath Airforce Recruitment Scheme : आज से अग्निवीरों के लिए शुरू हुए रजिस्ट्रेशन, जान लें कैसे करें अप्लाई

Agneepath Airforce Recruitment Scheme : देश में युवाओं के बीच मचे बवाल और विरोध प्रदर्शन के बीच आज 24 जून से भारतीय वायुसेना (Indian Airfoce)  में आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। यह प्रक्रिया आज से शुरू होकर 5 जुलाई तक जारी रहेगी।

यहां कर सकते है अप्लाई

आपको बताते चलें कि, अग्निवीर बनने के लिए अप्लाई करने के लिए इच्छुक और योग्य अभ्यर्थी इंडियन एयर फोर्स के भर्ती पोर्टल- careerindianairforce.cdac.in पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। जहां पर उम्मीदवार 5 जुलाई की शाम 5 बजे तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। यहां पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए अभ्यर्थियों को 250 रुपये परीक्षा शुल्क का भुगतान भी ऑनलाइन माध्यमों से ही करना होगा।

जानें कब होगी परीक्षा

आपको बताते चलें कि, परीक्षा का शेड्यूल यह है कि,

  • भारतीय वायुसेना में भर्ती के लिए 24 जुलाई से 31 जुलाई तक ऑनलाइन एग्जाम होगा.
  • 21 अगस्त से 28 अगस्त तक फिजिकल फिटनेस टेस्ट होगा.
  • 29 अगस्त से 8 नवंबर तक मेडिकल एग्जामिनेशन होगा.
  • 1 दिसंबर 2022 को सफल अभ्यर्थियों का रिजल्ट जारी किया जाएगा.
  • 30 दिसंबर 2022 से सफल अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग भी शुरू होगी.

जानें क्या चाहिए शैक्षणिक पात्रता

आपको बताते चलें कि,अग्निवीर बनने के लिए अभ्यर्थी ने दसवीं (मैट्रिक) और इंटरमीडिएट (10+2) परीक्षा उत्तीर्ण की हो या तीन वर्षीय डिप्लोमा या दो वर्षीय वोकेशनल कोर्स किया हो पात्र होगा वहीं पर इन सभी में उम्मीदवारों को न्यूनतम 50 फीसदी अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए. साथ ही उम्मीदवार जन्म 29 दिसंबर 1999 से पहले और 29 जून 2005 के बाद नहीं हुआ होना चाहिए।

शारीरिक योगयता का पैमाना

आपको बताते चलें कि, शारीरिक योग्यता के पैमाने के आधार पर

  • लंबाई – वायुसेना में अग्निवीर बनने के लिए न्यूनतम लंबाई 152.5 सेमी होनी चाहिए.
  • छाती – अग्निवीर भर्ती के लिए अभ्यर्थी की छाती कम से कम 5 सेमी तक एक्सपैंड होनी चाहिए.
  • वजन – भारतीय वायु सेना के नोटिफिकेशन में कहा गया है कि अभ्यर्थी का वजन उसकी लंबाई और उम्र के अनुरूप होनी चाहिए.
  • आंखें– कॉर्निअल सर्जरी (पीआरके/लेसिक) वाले भर्ती के लिए अयोग्य हैं. IAF के मानकों के अनुसार दृश्यता जरूरी है.
  • सुनने की क्षमता– सामान्य हियरिंग जरूरी. 6 मीटर की दूरी से फुसफुसाहट हर कान से सुनने में सक्षम होना जरूरी.
  • दांत– स्वस्थ मसूढ़े, दातों का पर्याप्त समूह और कम से कम 14 दांत जरूरी.
  • जनरल हेल्थ– शारीरिक बनावट समान्य होना जरूरी. किसी भी प्रकार तीव्र या दीर्घकालिक बीमारी या सर्जिकल डिसेबिलिटी या इंफेक्शन या त्वचा रोग नहीं होनी चाहिए।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password