छह दिन के तलाश अभियान के बाद जोधपुर की झील में मिला सेना के अधिकारी का शव

जोधपुर, नौ जनवरी (भाषा) प्रशिक्षण अभ्यास के दौरान यहां एक झील में कूदने के बाद लापता हुए सेना के एक अधिकारी का शव मंगलवार दोपहर में बरामद हुआ। इसके साथ ही छह दिन का लंबा तलाश अभियान खत्म हो गया।

सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) नीरज शर्मा ने बताया कि कल्याण झील से दोपहर तीन बजे कैप्टन अंकित गुप्ता का शव गोताखोरों को मिला, जिसके बाद उसे तुरंत सेना के एक अस्पताल में ले जाया गया। उन्होंने बताया कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि उनका अंतिम संस्कार जोधपुर में होगा या उनके पैतृक स्थान पर किया जाएगा।

सेना की ‘10 पैरा (विशेष बल)’ इकाई के कैप्टन अंकित गुप्ता (28) ने प्रशिक्षण अभ्यास के दौरान अन्य प्रशिक्षुओं के साथ बृहस्पतिवार को एक हेलीकॉप्टर से कल्याण झील में छलांग लगाई थी। अन्य प्रशिक्षु बाहर निकले गए थे, लेकिन उनका पता नहीं चल पाया था। इसके बाद तलाश अभियान शुरू किया गया था।

झील में छह दिन चला यह तलाश अभियान लंबे अभियानों में से एक है। इसमें विशेष कैमरा टीम, नौसेना की एमएआरसीओएस इकाई, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और नागरिक रक्षा दल, निजी स्थानीय गोताखोरों समेत सेना के गोताखोर और विशेषज्ञ और पुलिस लगातार दिन-रात अधिकारी की तलाश में जुटी रही।

राजीव गांधी नगर पुलिस थाने के उप निरीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि करीब 250 गोताखोर और 15 नावों के साथ विशेषज्ञ इस तलाश अभियान का हिस्सा थे लेकिन काफी दलदल और तलहटी में काफी चट्टानों और जलीय वनस्पतियों की वजह से इस अभियान में बाधा पहुंच रही थी।

गुड़गांव के रहने वाले कैप्टन गुप्ता की एक महीने पहले ही शादी हुई थी और अपने विशेष प्रशिक्षण को पूरा करने के लिए ड्यूटी पर लौट आए थे।

भाषा स्नेहा दिलीप

दिलीप

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password