Yanomami Tribe : मरने के बाद इंसान की लाश खा जाते है यहां के लोग

Yanomami Tribe : दुनिया में ऐसी कई परमपराएं है जिनके बारे में सुनना तो दूर सोच भी नहीं सकते। उनकी परंपराएं, संस्कृृति, रीति-रिवाजों पर हमे भरोसा नहीं होता है। ऐसी कई जनजातियां भी है जिनकी परंपराओं से लोग आज भी अनजान है। आज हम आपको एक ऐसी जनजाति की परंपरा के बारे में बताने जा रहे है जिसे सुनकर आपको यकीन नहीं होगा। हम बात कर रहे है यानोमामी जनजाति की।

मरे इंसान की लाश खाने की परंपरा

आपको जानकर हैरानी होगी कि यानोमामी जनजाति के लोग अपने किसी इंसान की मौत होने के बाद उसे न ही दफनाते है और न ही उसे जलाते है। यानोमामी जनजाति के लोग मरे इंसान का मांस खा जाते है। इस जनजाति के लोग साउथ अमेरिका के ब्राजील में निवास करती है। यानोमामी जनजाति के लोग मारने वाले इंसान को खा जाते है यह उनकी परंपरा है और इस परंपरा को एंडो-केनिबलवाद कहा जाता है। द गार्जियन की एक रिपोर्ट के अनुसार इस जनजाति को यनम और सीनेमा के नाम से भी जाना जाता है।

परिवार के लोग मिलकर खाते है मृतक की लाश

दुनिया के कानून, संस्कृति का इस जनजाति पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। इस जनजाति के लोग इसे अपनी परंपरा मानते है। यानोमामी जनजाति के लोग इस मामले में बाहरी लोगों की दखलअंदाजी पसंद नहीं करते है। यानोमामी जनजाति में रहने वाले परिवारों में अगर किसी की मृत्यू हो जाती है तो परिवार के सदस्य मिलकर मृतक की लाश को आग में जलाकर खा जाते है। लाश को खाने से पहले मृतक के चेहरे पर पेंट किया जाता है। इतना ही नहीं इस दौरान रिश्तेदार मौत के बाद नाच गाना भी करते है और रोते हुए दुख जाहिर करते है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password