राम मंदिर निर्माण के बाद अयोध्या में हर रोज डेढ़ लाख श्रद्धालुओं के उमड़ने का अनुमान : ट्रस्ट सदस्य

इंदौर (मध्यप्रदेश), 18 जनवरी (भाषा) श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य कामेश्वर चौपाल ने सोमवार को कहा कि भगवान राम की जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के बाद हर रोज एक लाख से डेढ़ लाख श्रद्धालु अयोध्या पहुंच सकते हैं और मंदिर को इस अनुमान के मुताबिक तैयार किया जा रहा है।

राम मंदिर निधि समर्पण अभियान के तहत यहां आए चौपाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘मौजूदा स्थिति में हर दिन औसतन 10,000 श्रद्धालु भगवान राम के दर्शन के लिए अयोध्या पहुंचते हैं। मंदिर बनने के बाद हर रोज एक लाख से डेढ़ लाख श्रद्धालुओं के राम की इस नगरी पहुंचने का अनुमान है। इस अनुमानित तादाद को ध्यान में रखते हुए राम मंदिर निर्माण किया जा रहा है।’

राम मंदिर निर्माण परियोजना पर अनुमानित खर्च के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘चूंकि इस परियोजना के तहत अयोध्या में भव्य मंदिर के साथ शोध संस्थान, सभागार, संग्रहालय और प्रदर्शनी स्थल बनेगा एवं सीता रसोई का जीर्णोद्धार तथा अन्य कई कार्य होंगे। इसलिए परियोजना के कुल बजट के बारे में अभी अंदाजा नहीं लगाया जा सकता।’

उन्होंने बताया कि राम मंदिर के लिए सबसे पहले मजबूत नींव बनाई जानी है और जानकारों का कहना है कि नींव का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद यह देवालय 36 से 40 महीने के भीतर बनकर तैयार हो सकता है।

गुजरे सालों में राम मंदिर के लिए विश्व हिन्दू परिषद के जुटाए गए चंदे का कांग्रेस नेताओं द्वारा हिसाब मांगे जाने पर चौपाल ने कहा, ‘एक जमाने में राम जन्मभूमि की सारी संपदा की चाबी और हिसाब-किताब तत्कालीन कांग्रेस सरकार के पास था। उन्हें (कांग्रेस नेता) तब ही इसका सारा हिसाब-किताब देख लेना चाहिए था। लेकिन अब वे महज बहाना बना रहे हैं।’

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य ने एक कहावत के जरिये कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा, ‘हमारे यहां मिथिला के लोग कहते हैं कि अगर किसी व्यक्ति को अपनी पत्नी को (बेवजह) पीटना हो, तो वह कहता है कि उसने साग में हल्दी क्यों नहीं डाली?’

राम मंदिर निर्माण को लेकर जन जागरण अभियान के दौरान मध्यप्रदेश के अलग-अलग इलाकों में पिछले दिनों सांप्रदायिक तनाव की हिंसक घटनाओं के बारे में पूछे जाने पर चौपाल ने कहा, ‘कोई व्यक्ति (तनाव का) बहाना खोजेगा, तो उसे बहाना मिल जाएगा। हम राम को मानने वाले लोग तो प्रेम की गंगा बहाते हैं। हम किसी व्यक्ति को कष्ट देने क्यों जाएंगे?’

चौपाल ने कहा कि राम मंदिर निर्माण से ध्यान भटकाने के लिए कुछ मुद्दों को बेवजह तूल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘अयोध्या में राम मंदिर, राष्ट्रमंदिर के रूप में बनेगा जिसमें सभी समुदायों का समर्पण और श्रद्धा समाहित रहेगी।’

भाषा हर्ष अर्पणा

अर्पणा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password